Top

सात लोगों की हत्यारिन- फिर टली शबनम की फांसी- क्या है मामला

सात लोगों की हत्यारिन- फिर टली शबनम की फांसी- क्या है मामला

नई दिल्ली। सात लोगों की हत्या की दोषी शबनम की फांसी एक बार फिर टल गई है। एक बार फिर से दया याचिका को राज्यपाल के पास भेजा गया है। जब तक वहां से फैसला नहीं आता, तब तक शबनम को फांसी नहीं होगी।

अमरोहा के जनपद न्यायालय ने अभियोजन पक्ष से शबनम का ब्यौरा मांगा था, लेकिन सरकारी वकील ने अदालत को बताया कि रामपुर जेल के माध्यम से शबनम को फांसी रोकने के संदर्भ में एक याचिका लगाई है। जब तक दया याचिका पर फैसला नहीं आ जाता, तब तक के लिए फांसी टल गई है।

गौरतलब है कि शबनम ने दूसरी बार दया याचिका राज्यपाल को भेजी है। यह याचिका राष्ट्रपति को भेजी जायेगी, तब तक के लिए शबनम की फांसी टल गई है। अब इस मामले में राष्ट्रपति के फैसले के बाद ही कोर्ट फैसला लेगी। गौरतलब है कि अनुच्छेद 32 के तहत राष्ट्रपति को दो बार दया याचिका भेजी जा सकती है। पहली बार जब याचिका भेजी गई थी, जब प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति थे, लेकिन वे इस पर कोई फैसला नहीं दे सके थे। राष्ट्रपति कोविंद ने दया याचिका खारिज कर दी थी। अब दोबारा दया याचिका भेजी गई है।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिला निवासी शबनम ने अपने प्रेमी से शादी करने के लिए अपने ही परिवार के सात लोगों की हत्या कर दी थी। घरवाले उसके प्रेम विवाह के खिलाफ थे, इसलिए शबनम ने घिनौनी और सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया था। बाद में पुलिस ने शबनम और उसके प्रेमी को अरेस्ट कर लिया था। वर्ष 2010 में अमरोहा की अदालत ने दोनों को फांसी की सजा सुनाई थी।

epmty
epmty
Top