Top

एनकाउन्टर दर एनकाउन्टर

एनकाउन्टर दर एनकाउन्टर

शामली जनपद के कैराना कस्बा विधानसभा चुनाव से पहले रंगदारी के चलते पलायन को लेकर सुर्खियों में आया तो वहां पुलिस कप्तान के रूप में डॉ अजयपाल शर्मा को पोस्ट किया गया। युवा आईपीएस अजयपाल शर्मा ने चार्ज संभालने के बाद मुकीम काला गैंग जो रंगदारी मांगता था उसको निशाने पर लिया तो जैसे इस गैंग की शामत आ गयी। इस गैंग का फुरकान पुलिस हिरासत से भागा तो अजयपाल शर्मा की टीम ने उसके गैंग की 31 बदमाशो।को।जेल भेजा तो 50 हजारी फुरकान को।मुठभेड़ के बाद गोली लगी अवस्था मे पकड़ लिया। इसके बाद अजयपाल शर्मा ने 50 हजार के विपुल खूनी को भी एनकॉउंटर के बाद बड़ेघर को रवाना कर अपराधियो में अपना ख़ौफ़ पैदा कर दिया एक लाख के इनामी नोशाद डैनी को साथी सहित किया ढेर ऐसे दौर में जब पुलिस जान पर बाजी लगाकर बदमाशो की गोली का सामना कर एनकॉउंटर में उन्हें ज़िंदा पकड़ कर जेल भेज रही थी तो बदमाशो के हौसले बुलंद हो रहे थे ऐसे में जब कैराना में 50 हजार यूपी पुलिस तो 50 हजार हरियाणा पुलिस के इनामी नोशाद डैनी ओर उसके इनामी साथी सरवर को शामली पुलिस ने अपने कप्तान अजयपाल शर्मा के कमांड में घेरा तो डैनी ने पुलिस को निशाना बनाकर गोली चलाई तो पुलिस ने भी गोली का जवाब इस बार सामने से दिया रिजल्ट आया रंगदारी से कैराना में आतंक फैलाने वाले गैंग के दो बदमाश यमलोक में जा चुके थे। एसपी शामली अजयपाल शर्मा और उनकी टीम की वाहवाही हुई ररंगदारी से त्रस्त लोगो ने पुलिस टीम को संम्मानित किया। कई दिन पूर्व भी झिंझाना पुलिस ने 2 इनामी अपराधियो को पकड़कर जेल भेजा है आज भी इकराम एनकॉउंटर में धराशायी नोशाद के साथी सहित मुठभेड़ में मरने के बाद शामली में आने से बदमाश कतराने लगे है लेकिन लगता है शामली एसपी अजयपाल ने शामली जनपद को क्रिमनल फ्री करने की ठान ली है तभी तो उन्होंने आज फिर उसी कुख्यात कैराना की धरती पर जो रंगदारी ओर पलायन से दुखी थी वहां 5 हजारी इकराम को एनकॉउंटर में ढेर कर दिया । शामली जाना है ना बाबा ना बदमाशो में शामली जाने से दहसत होने लगी है वजह बदमाशो की पनाहगाह शामली जनपद अब उनके लिए सुरक्षित नही रह गया है क्योंकि यहां का कप्तान एनकॉउंटर स्पेशलिस्ट है

epmty
epmty
Top