Top

दीवार तोड़कर गिरी कार के साथ गंगनहर में समाया परिवार

दीवार तोड़कर गिरी कार के साथ गंगनहर में समाया परिवार

रुड़की। पिरान कलियर दरगाह से जियारत करके लौट रहे ट्रैवल्स कारोबारी की कार दीवार तोड़कर गंगनहर में समा गई। इस दौरान ट्रैवल्स कारोबारी की पत्नी, बेटे, बेटी और चालक की मौत हो गई। मृतकों के शव घटनास्थल से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर कार के अंदर से बरामद किए गए। रेस्क्यू अभियान में मदद करने के लिए कुछ लोग ट्रैक्टर पर बड़ी-बड़ी लाइटें लगाकर मौके पर पहुंच गए, जिससे पुलिस को रात के अंधेरे में दिक्कतों का सामना न करना पड़े।


उत्तराखंड के जनपद हरिद्वार के ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र के बाबर कॉलोनी निवासी गुलफाम का ट्रैवल्स का कारोबार है। गुरुवार को गुलफाम अपने परिवार के साथ जियारत करने के लिए पिरान कलियर दरगाह पर गया था। इबादत करने के बाद रात के समय गुलफाम और उसका परिवार गंगनहर की पटरी से होते हुए ज्वालापुर लौट रहा था। देर रात जब ट्रैवल्स कारोबारी की कार रानीपुर स्थित झाल के पास पहुंची तो सामने से आए किसी वाहन को बचाने के चक्कर में उनकी कार अनियंत्रित होकर साईड में बनी दीवार को तोड़ते हुए गंगनहर में समा गई। गुलफाम तो कार के गिरते वक्त किसी तरह से छिटककर बाहर गिरा।

जबकि उसकी 35 वर्षीय पत्नी सहाना, 5 वर्षीय बेटा आलीशान, 3 वर्षीय बेटी गुलिस्ता और मौहल्ला कस्सावान निवासी 45 वर्षीय चालक मंसूर कार के साथ गंगनहर में समा गए। गुलफाम ने घटना की सूचना वहां से गुजर रहे लोगों के फोन के जरिए पुलिस को दी। सूचना पाते ही ज्वालापुर कोतवाली और जल पुलिस मौके पर पहुंची। रेस्कयू टीम ने राहत कार्य शुरू करते हुए रानीपुर झाल के रेगुलेटर बंद करा दिए गए। अग्निशमन विभाग के कर्मियों के अलावा एसडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची और जल पुलिस के साथ मिलकर राहत अभियान चलाया। रेस्क्यू अभियान के दौरान पुलिस को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा। लोगों की भीड़ के चलते पुलिस को कई बार परेशानी भी हुई। ऐसे में पुलिस ने कई बार लोगों को वहां से हटाया।

बताया जा रहा है की कार के साथ गंगनहर में समायें 4 लोगों के शव घटनास्थल से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर कार के भीतर से बरामद किए गए हैं। जिसने भी इस घटना के बारे में सुना वह अपने आप को रोक नहीं पाया और मौके पर पहुंच गया। रेस्क्यू अभियान में मदद करने के लिए कुछ लोग ट्रैक्टर पर बड़ी-बड़ी लाइटें लगाकर मौके पर पहुंचे, जिससे पुलिस को रात के अंधेरे में दिक्कतों का सामना न करना पड़े। कोतवाल प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि रानीपुर झाल से पानी को रोककर सर्च अभियान चलाया गया है। देर रात कार के अंदर से चारों लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं।

epmty
epmty
Top