Top

लापरवाही पडना जाए-पर्यटकों की वजह से लगा जाम-पुलिस के छूटे पसीने

लापरवाही पडना जाए-पर्यटकों की वजह से लगा जाम-पुलिस के छूटे पसीने

देहरादून। वीकेंड पर सैर सपाटा मनाने के लिए मसूरी की तरफ दौड़े लोगों की वजह से देहरादून-मसूरी मार्ग पर लगभग 10 किलोमीटर लंबा जाम लग गया है। जिसे सुचारू कराने में पुलिस के पसीने छूट गए हैं। पर्यटकों की बढ़ती भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रशासन की ओर से बिना नेगेटिव रिपोर्ट के मसूरी में नो एंट्री घोषित कर दी गई है।

शनिवार को देहरादून-मसूरी मार्ग पर पर्यटकों की भीड़ उमडने की वजह से लंबा जाम लग गया। वीकेंड पर पर्यटन नगरी मसूरी जाने की चाह की हसरत लिए उत्तराखंड पहुंचे लोग रास्ते में ही जाम लगने से परेशान हो गए। मसूरी से पहले ही 10 किलोमीटर लगा लंबा जाम लग गया। जिसे सुचारू कराने में पुलिस के पसीने छूट गए। दरअसल पर्यटकों की भारी भीड़ को ध्यानातंर्गत रखते हुए अब शुक्रवार से मसूरी में आने वालों के लिए कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट और स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन तथा होटल बुकिंग संबंधित दस्तावेज दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है। शनिवार को मसूरी मार्ग पर पुलिस पर्यटकों की कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट, दून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन और होटल बुकिंग संबंधित दस्तावेजों की चेकिंग कर रही है। वीकेंड पर मसूरी जाने के लिए पर्यटकों की उमड़ती भीड़ के चलते यह नई व्यवस्था की गई है। गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली समेत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दिल्ली से सटे इलाकों में वीकेंड पर शुक्रवार की रात से लोगों का चार पहिया वाहनों में सवार होकर उत्तराखंड पहुंचने का सिलसिला शुरू हो जाता है। जिसके चलते दिल्ली से लेकर तीर्थ नगरी हरिद्वार और देहरादून तक जगह जगह सड़क के फोरलेन होने के बावजूद भी जाम लगते रहते हैं। इसी तरह की स्थिति रविवार की रात और सोमवार के सवेरे उत्पन्न हो जाती है। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 समेत चैधरी चरण सिंह गंग नहर पटरी मार्ग पर जगह-जगह जाम की घटनाएं देखने को मिलती है। जाम की वजह से स्थानीय लोगों को बुरी तरह से परेशान होना पड़ता है।

epmty
epmty
Top