Top

किसानों के साथ अन्याय नही होने देगी AAP पार्टी- मान

किसानों के साथ अन्याय नही होने देगी AAP पार्टी- मान

ऊधम सिंह नगर। उत्तराखंड के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत सिंह मान ने किसान न्याय यात्रा शुरू कर काशीपुर में हुई जनसभा को संबोंधित करते हुए कहा कि उनकी पार्टी किसानों के साथ अन्याय नही होने देगी और उनके मान सम्मान की लडाई किसानों के कंधे से कंधा मिलाकर लडेगी। इस दौरान पार्टी की दिल्ली में चल रही सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि सत्ता में आने पर आप दिल्ली माॅडल को उत्तराखंड में लागू करते हुए प्रदेशवासियों की दिशा और दशा सुधारने का काम करेगी।


आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत सिंह मान मंगलवार को उत्तराखंड के दो दिवसीय दौरे के तहत ऊधमसिंह नगर पहुंचे। पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। पार्टी के संस्थापक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा पिछले दिनों पार्टी की ओर से उत्तराखंड में विधानसभा का चुनाव लडे जाने की घोषणा के बाद आप सांसद के उत्तराखंड के पहले दो दिवसीय दौरे पर पहुंचने पर कार्यकर्ताओं का उत्साह चरम पर पहुंचता दिखाई दिया। दो दिवसीय दौरे पर उत्तराखंड पहुंचे आप सांसद भगवंत सिंह मान उधमसिंहनगर जिले में अलग-अलग जगहों पर कृषि बिल का विरोध कर किसान न्याय यात्रा निकालकर जनसभा करेंगे। उनके कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन ने भी व्यवस्था चाकचैबंद की है।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष शिशुपाल रावत के मुताबिक सांसद मान मंगलवार को काशीपुर, बाजपुर, रुद्रपुर में आप द्वारा आयोजित किसान न्याय यात्रा की जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान जगह जगह पर आप कार्यकर्ता उनका स्वागत करेंगे। अगले दिन 30 दिसंबर को भी नानकमत्ता साहिब, खटीमा समेत कई जगह किसान न्याय यात्रा निकालकर आप सांसद जनसभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान वह कृषि बिल के खिलाफ कई किसानों से मुलाकात भी करेंगे। रावत ने कहा आप किसानों के समर्थन में उनके साथ खड़ी है। केंद्र सरकार किसानों के प्रति अड़ियल रवैया अपनाए हुए है और वह तरह-तरह से दुष्प्रचार करके किसानों के आंदोलन को खत्म करने की कोशिशें कर रही है। केंद्र सरकार का कृषि बिल किसानों को भविष्य में नुकसान पहुंचाने वाला है।


आम आदमी पार्टी पुरजोर तरीके से केंद्र सरकार के इस कृषि विरोधी काले कानून का विरोध करती है, और इस आंदोलन में किसानों के साथ खड़ी है। उत्तराखंड के भी कई किसान दिल्ली में आंदोलन में धरने पर बैठे है जो अपने हक के लिए कृषि कानून का विरोध कर रहे है।

epmty
epmty
Top