Top

यूपी- भाजपा के संगठन महामंत्री को कोरोना

यूपी- भाजपा के संगठन महामंत्री को कोरोना

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 6023 नये मामले सामने आये है जिनमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के संगठन महामंत्री सुनील बंसल और राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार रविंद्र जायसवाल भी शामिल हैं।

कोरोना के लक्षण दिखने पर बंसल ने अपना एंटीजेन टेस्ट कराया था जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुयी हालांकि उनकी लार का नमूना आरटीपीसीआर जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है। महामंत्री सुनील बंसल मंगलवार को भाजपा की स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए थे जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल के कुछ सदस्यों के अलावा भाजपा के पदाधिकारी भी मौजूद थे।

महामंत्री सुनील बंसल ने खुद के काेरोना संक्रमित होने की जानकारी ट्विटर के जरिये दी। उन्होने अपने संपर्क में आने वाले लोगों को कोरोना टेस्ट कराने की सलाह दी है।

इस बीच अपर मुख्य सचिव 'चिकित्सा एवं स्वास्थ्य' अमित मोहन प्रसाद ने पत्रकारों को बताया कि मंगलवार को एक दिन में कुल 1,86,948 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 3,59,42,111 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 6,023 नये मामले आये हैं। इस तरह 31,987 कोरोना के एक्टिव मामलों में से 18,679 लोग होम आइसोलेशन में हैं वहीं निजी चिकित्सालयों में 668 मरीज अपना इलाज करा रहे है तथा शेष मरीज सरकारी चिकित्सालयों में निःशुल्क इलाज भी करा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 6,04,979 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। प्रदेश में 45 वर्ष सेे अधिक आयु के लोगों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब तक 65,00,506 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 11,67,323 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गयी हैं। इस प्रकार कुल 76,67,829 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड संक्रमण नियंत्रित करने के लिए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम निगरानी समिति, मोहल्ला निगरानी समिति को पुनः सक्रिय किया गया है। इन समितियों के माध्यम से अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों की पहचान कर, उनसे संक्रमण की जानकारी लेते हुए आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने प्रदेश के बाहर से आने वाले लोगों से अपील की गयी है कि वे अपनी सामाजिक जिम्मेदारी समझे और घर में ही कम से कम 07 से लेकर 10 दिन तक व्यतीत करे। संक्रमण का कोई भी लक्षण दिखायी देने पर स्वयं चिकित्सालयों में जाकर कोविड-19 की जांच अवश्य कराये। इससे स्वयं को और अपने परिवार को कोविड-19 से सुरक्षित किया जा सकेगा।

उन्होने बताया कि इस समय विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। मास्क का प्रयोग समाज के प्रति जिम्मेदारी व सामाजिक उत्तरदायित्व का पालन है। उन्होंने बताया कि खान-पान व योग से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाये। किसी प्रकार के कोविड लक्षण आने पर जांच अवश्य करायें। सरकारी मेडिकल काॅलेजों तथा सरकारी अस्पतालों में कोविड की जांच तथा इलाज निःशुल्क है।

वार्ता





epmty
epmty
Top