रास्ते में उठा तेज दर्द-एंबुलेंस कर्मियों ने महिला को करा दिया यह काम

रास्ते में उठा तेज दर्द-एंबुलेंस कर्मियों ने महिला को करा दिया यह काम

चंदौली। प्रसव पीड़ा होने पर जिला अस्पताल में ले जाई जा रही महिला को जब एंबुलेंस के भीतर ही असहनीय दर्द हुआ तो प्रसव क्रिया का समय देख एंबुलेंस कर्मियों ने सड़क पर ही बंदोबस्त करते हुए महिला की डिलीवरी करवा दी। बाद में पूरी तरह से स्वस्थ जच्चा और बच्चा को जिला अस्पताल में ले जाकर महिला वार्ड में भर्ती करा दिया गया। सड़क पर ही प्रसव क्रिया सहन करने वाली महिला एंबुलेंस कर्मियों को भगवान का रूप बताते हुए नहीं थक रही है।

शुक्रवार को सदर ब्लाक के तीरों गांव निवासी काजू की गर्भवती पत्नी उर्मिला देवी को अचानक पेट के भीतर दर्द उठने लगा। जिसके बाद पति का काजू ने तकरीबन 11.00 बजे 108 एंबुलेंस पर फोन से सूचना देते हुए मामले की जानकारी दी। थोड़ी देर में स्वास्थ्य विभाग की एंबुलेंस गांव में काजू के घर पहुंच गई। एंबुलेंस में जिस समय प्रसव क्रिया के लिए जिला अस्पताल ले जाया जा रहा था तो रास्ते में ही उर्मिला को अचानक तेज दर्द होने लगा। शरीर में ज्यादा तकलीफ होने के कारण वह बेहोश होने लगी। जिसके बाद पति काजू के कहने पर एंबुलेंस में तैनात स्वास्थ्य कर्मियों ने महिला को प्रसव कराने की जिम्मेदारी संभाली और उन्होंने उसे सकुशल प्रसव करवा दिया। गांव वालों का कहना है कि एंबुलेंस कर्मियों ने उर्मिला और उसके बच्चे की जिंदगी बचा कर एक भगवान के स्वरूप काम किया है।



epmty
epmty
Top