Top

शहर के डार्क जोन में लाईटिंग की समुचित व्यवस्था कराई जाए : कमिश्नर संजय कुमार

शहर के डार्क जोन में लाईटिंग की समुचित व्यवस्था कराई जाए : कमिश्नर संजय कुमार

सहारनपुर मण्डलायुक्त संजय कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर में रात्रि के समय बेहतर पुलिसिंग की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि रात्रि में महिलाएं व बच्चियां बिना किसी परेशानी के अपने गंतव्य स्थान पर पूरी सुरक्षा के साथ जा सकें। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिए कि तत्काल शहर के डार्क जोन क्षेत्रों को चिन्हित कर वहां बेहतर लाइटिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था से छेड़छाड़ करने वालों को चिन्हित कर कठोर कार्रवाही की जाए। शहर के प्रमुख चैराहों, बाजारों तथा महिला काॅलेजों के आस-पास सुरक्षा हेतु पुलिस की समुचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने शहर में पिंक ऑटो तथा पिंक ई-रिक्शा का संचलान कराने तथा इन पर महिला चालकों को ही प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए।

कमिश्नर संजय कुमार आज यहां अपने कैम्प कार्यालय में ''सेफ सिटी'' के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि शहर में यातायात की समुचित व्यवस्था की जाए। हर चौराहे पर ट्रैफिक पुलिस के जवान यातायात को नियंत्रित करते हुए नजर आने चाहिए। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि शहर के डार्क जोन जहां लाईटिंग की व्यवस्था न होने से रात्रि के समय सुरक्षा की दृष्टि से उपर्युक्त स्थल नहीं है। ऐसे स्थानों को चिन्हित कर वहां लाईटिंग की समुचित व्यवस्था की जाए। रात्रि में पुलिस गश्त को बढ़ाया जाए। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के मामले में कोई समझौता नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वालों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध सख्त कार्रवाही की जाए।*

कमिश्नर ने यह भी निर्देश दिए कि ऐसे प्रमुख चौराहे अथवा स्थान जंहा पर महिलाओं का आवागमन ज्यादा हो, वंहा पर पिंक शौचालयों का निर्माण कराया जाए। उन्होंने कहा कि इन शौचालयों में साफ-सफाई, साज-सज्जा, लाईटिंग आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाये। शौचालय की साफ-सफाई के लिये महिला सफाईकर्मियों की टीम ही लगायी जाये। इसी के साथ संवेदनशील चौराहों का अध्ययन कर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि महिला थाना पर इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल रूम की स्थापना की जाये। उन्होने महिलाओं की सुरक्षा हेतु पिंक पोस्ट, पिंक पैट्रोल तथा महिलाओं से संबंधित शिकायतों पर तुरन्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

कमिश्नर संजय कुमार ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि तहसील, ब्लाक, विकास भवन, कलेक्ट्रेट, आयुक्त कार्यालय आदि बडे दफ्तरों में अनिवार्य रूप से महिला हेल्प डेस्क की स्थापना की जाये। तथा हेल्प डेस्क पर महिला कर्मचारी की ही तैनाती की जाये। महिलाओं की समस्याओं को अधिकारी प्रमुखता के साथ निस्तारण करें। उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी में वर्किंग वुमेन होस्टल का प्रस्ताव पारित हो गया है। जल्द ही टैण्डर कराकर कार्य शुरू कर दिया जायेगा।

एसपी ट्रैफिक प्रेमचन्द्र को निर्देश दिये कि आरटीओ के माध्यम से विभिन्न रूट को चिन्हित कर लें, जिन पर 15 अगस्त से पहले पिंक ऑटो तथा पिंक ई-रिक्शा अनिवार्य रूप से चल जानी चाहिए। पिंक ऑटो तथा पिंक ई-रिक्शा पर महिला चालकों को ही प्रोत्साहित किया जाये। उन्होंनेे कहा कि शासन द्वारा 50 इलेक्ट्रिक बसों की स्वीकृति दे दी गयी है। जिसके लिये आरएम यूपीएसआरटीसी को निर्देश दिये गए है कि जल्द से जल्द इलेक्ट्रिक बसों के स्टैण्ड व चार्जिंग प्वाईंट के लिये जगह चिन्हित कर लें। साथ ही सर्वे कर लें कि किन-किन रूट पर इन बसों की आवश्यकता है।

कमिश्नर संजय कुमार ने जिला प्रोबेशन अधिकारी पुष्पेन्द्र सिंह को निर्देश दिये कि महिलाओं की सुरक्षा एवं सशक्तिकरण के लिये आशा ज्योति केन्द्र पर भी सभी आवश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध होनी चाहिए। तथा पुलिस लाईन स्थित परिवार परामर्श केन्द्र को भी बेहतर ढंग से चलाया जाये।

बैठक में जिलाधिकारी अखिलेश सिंह, नगर आयुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक यातायात प्रेमचन्द्र,एसडीएम सदर अनिल कुमार सिंह, आरएम यूपीएसआरटीसी मनोज त्रिवेदी, सहारनपुर विकास प्रधिकरण के अधिशासी अभियंता अनिल कुमार मिश्रा, जिला प्राबेशन अधिकारी पुष्पेन्द्र सिंह आदि सहित वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

epmty
epmty
Top