Top

दूध वाहन व होंडा सिटी कार हो रही थी शराब की तस्करी में इस्तेमाल

दूध वाहन व होंडा सिटी कार हो रही थी शराब की तस्करी में इस्तेमाल

गाजियाबाद। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की प्रक्रिया शुरू होते ही शराब तस्कर भी सक्रिय हो गए हैं। नए- नए हथकंडे आजमाते हुए शराब तस्कर दूसरे राज्यों से देशी व अंग्रेजी शराब लेकर प्रदेश में आ रहे हैं। आबकारी विभाग व पुलिस टीम ने एक सूचना पर बड़ी कार्रवाई करते हुए दूध वाहन और होंडा सिटी कार में लादकर लाई जा रही लगभग 10 लाख रुपए कीमत की शराब बरामद करते हुए दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया है।

दरअसल बुधवार को आबकारी विभाग और पुलिस को हरियाणा से भारी मात्रा में अवैध शराब की तस्करी कर लाए जाने की जानकारी प्राप्त हुई। पुलिस और आबकारी विभाग ने मुखबिर की सूचना को गंभीरता से लेते हुए दो अलग-अलग टीमें गठित करते हुए एक टीम ने दुहाई पेरिफेरल वे स्थित चेक पॉइंट पर संयुक्त रूप से चेकिंग अभियान चलाना शुरु कर दिया। इसी दौरान एक टाटा 407 गाड़ी जिस पर मिल्क वेन लिखा हुआ था, आती हुई दिखाई दी। चेकिंग अभियान में जुटी पुलिस और आबकारी विभाग के दल ने उक्त दूध वाहन को रुकवाया और छानबीन करते हुए उसकी तलाशी ली। दूध वाहन के अंदर से हरियाणा राज्य में बिक्री के लिए अनुमन्य 31 बोतल नाइट व्हिस्की, 3000 देसी शराब के पव्वे संतरा ब्रांड तथा 360 कैन टयूबर्ग प्रीमियर बियर की बरामद हुई।

टीम ने शराब तस्कर कुलबीर निवासी राजेंद्र कॉलोनी थाना नई अनाज मंडी रोहतक हरियाणा को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा आबकारी विभाग की टीम एवं गाजियाबाद कोतवाली पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से की गई कार्रवाई के दौरान लालकुआं ढलान पर होंडा सिटी कार को जांच पड़ताल के लिए रुकवाया गया। होंडा सिटी कार के भीतर से सात पेटियों में 336 पव्वे अवैध विदेशी शराब मैकडॉवेल नंबर वन जो हरियाणा राज्य में बिक्री के लिए अनुमन्य है, बरामद हुई। पुलिस ने होंडा सिटी में सवार हरियाणा के सोनीपत के थाना मुरथल के जैनपुर निवासी अरुण को गिरफ्तार कर लिया। दोनों वाहनों से बरामद हुई शराब की कीमत 10 लाख रूपये आंकी जा रही है।





epmty
epmty
Top