स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार सम्मानित होंगे कारागार के 120 अफसर व कर्मचारी

स्वतंत्रता दिवस पर पहली बार सम्मानित होंगे कारागार के 120 अफसर व कर्मचारी

लखनऊ। अधिकांशतः सराहना या प्रशंसा से वंचित कारागार विभाग के लिए खबर राहत देने वाली है कि प्रशंसा प्रत्र देकर सम्मानित करने के लिए अफसरों व कर्मचारियों की सूची तैयार हो गयी है। अब जल्द ही 15 अगस्त के अवसर पर ध्वजारेाहण के बाद उन्हें भी दूसरे विभाग के अफसरों व कर्मचारियों की तरह सम्मानित किये जाने की परम्परा बनने जा रही है।


ज्ञात हो कि कारागार विभाग अन्य विभागों की तुलना में इस दृष्टिकोण से बेहद संवेदनशील विभाग माना जाता है, क्योंकि जेलों में निरुद्ध कुख्यात अपराधियों, माफियाओं और आतंकवादियों को जहां जेल मैनुअल के अनुसार अनुशासित तथा नियंत्रित रखने की जिम्मेदारी कारागार विभाग के अधिकारी निर्वहन करते हैं तो वहीं मानवाधिकारों के साथ उन्हें सुरक्षित, स्वस्थ रखने, सुधारात्मक तथा रोजगार परक कार्यों में प्रवीण करके उन्हें समाज की मुख्यधारा में वापस लौटाने का दायित्व भी जेल के अधिकारियों कर्मचारियों का होता है। जेल में निरुद्ध अपराधियों के साथ इस दोहरी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए अपराधियों के अवैध कार्यो की राह में आड़े आने वाले कर्तव्यनिष्ठ ईमानदार तथा निडर अनेक अधिकारी और कर्मचारी अब तक शहीद हो चुके हैं। कई ऐसे मौके भी आते हैं, जब सम्मान के प्राप्त करने अधिकारी जेल अफसरों या कर्मचारियों को सम्मान तो प्राप्त नहीं होता, वरन जेल में कोई दुर्घटना होने, बंदी की मृत्यु होने या अपराधियों द्वारा जेल के अंदर से कोई अपराध कारित करने की दशा में कारागार कर्मी प्रायः दंडित किए जाते रहे हैं।

अब कारागार विभाग के मुखिया आनंद कुमार अपने विभाग के अफसरों व कर्मचारियों का मनोबल बनाये रखने के लिए नई परम्परा की शुरूआत करने जा रहे हैं। इसके तहत विभाग ने सुरक्षा तथा सुधारात्मक कार्यों के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित करने सम्बन्धित 120 अफसरों व कर्मचारियों की सूची आज जारी की है।

जारी सूची के अनुसार 15 अगस्त 2019 को दो अपर महानिरीक्षक कारागार, एक उपमहानिरीक्षक कारागार, तीन वरिष्ठ जेल अधीक्षक, 8 जेल अधीक्षक, 12 जेलर, 24 डिप्टी जेलर, 37 हेड जेल वार्डर, 30 जेलवार्डर तथा 3 चालकों के नामों पर मोहर लगी है, इन्हें स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण के पश्चात सम्मानित किया जायेगा।

epmty
epmty
Top