पुलिस का मानवीय चेहराः अपनी पीड़ा लेकर एसपी ट्रैफिक के घर पहुंची चिड़िया

पुलिस का मानवीय चेहराः अपनी पीड़ा लेकर एसपी ट्रैफिक के घर पहुंची चिड़िया

गोरखपुर। सभ्य मानव समाज में किसी भी पीड़ा से निजात पाने के लिए या किसी भी समस्या के निदान के लिए भगवान से प्रार्थना की जाती है, कुछ अफसरों से अपनी पीड़ा या समस्या बताकर हल कराना चाहते हैं, लेकिन यहां के एसपी यातायात के पास एक अलग ही तरह का मामला पेश आया है।


हुआ यूं कि आज सुबह पुलिस अधीक्षक यातायात आदित्य प्रकाश वर्मा के सरकारी बंगले पर घायल चिड़िया ने पहुंचकर अपने इलाज की गुहार लगाई तो पुलिस अधीक्षक यातायात ने उसके दर्द को समझते हुए तुरन्त पशु चिकित्सालय से सम्पर्क किया और चिकित्सकों से उस नन्हें चूजे का इलाज करने के लिए कहा। जैसे ही ये बात एसपी आवास के कर्मचारियों व पशु चिकित्सकों से होती हुई लोगों तक पहुंची तो ये वाकिया नगर मे चर्चा का विषय बन गया और लोगों ने एसपी यातायात आदित्य प्रकाश वर्मा की मानवता के लिए मुक्त कंठ से प्रसंशा की। ऐसे ही एक स्थानीय वाशिंदे ने कहा कि हर किसी को ऐसा ही दरियादिल होना चाहिए जो इंसान हो या पशु-पक्षी सब के दर्द को समझे। जानकारों का मानना है कि ऐसे ही मानवीय भावनाओं से ओतप्रोत अधिकारी समाज में अपनी एक अलग पहचान बनाते हैं।

सेहत

Top