समाजसेवा से सभासद बने विपुल भटनागर

समाजसेवा से सभासद बने विपुल भटनागर

पिता के जनसंघ से जुड़े रहने और उनकी सामाजिक चेतना से प्रभावित विपुल भटनागर का बचपन से ही समाजसेवा और राजनीति की ओर झुकाव हो गया था। 20 मार्च 1968 को नगर के प्रख्यात् समाजसेवी व चिकित्सक डा. विश्वनाथ सहाय भटनागर के पुत्र के रूप में जन्में विपुल भटनागर को बचपन से जनसंघ की विचारधारा घुट्टी में प्राप्त हुई, जिसके चलते उनके जीवन पर जनसंघ व भाजपा का गहरा प्रभाव हुआ और वे अनायास ही भाजपा से जुड़ते गये और उसके सक्रिय सदस्यों में शुमार हो गये।

राजनीति और समाज ज सेवा के विभिन्न पदों पर आसीन

इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में स्नातक पास करने के बाद जीवनयापन के लिए हालांकि विपुल भटनागर ने मै0 पैकेज प्रोडक्शन्स (निर्माता कारोगेटिड बाक्स एवं लेबिल) का व्यवसाय किया, लेकिन राजनीति में उनकी रूचि कम नहीं हुई और उनकी सेवाओं को देखते हुए उन्हें 2016 के उपचुनाव में नई मण्ड़ी मण्डल के प्रभारी का दायित्व सौंपा गया, जिसे उन्होंने बखूबी निभाया। इसके बाद उन्हें 2017 के विधानसभा चुनाव में फिर से नई मण्ड़ी मण्डल के प्रभारी नियुक्त किया गया।


केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल सांसद संजीव बालियान विधायक कपिल देव अग्रवाल के साथ




विपुल भटनागर ने भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के तत्वाधान में आयोजित मण्डलीय उद्यमी व्यापारी सम्मेलन के जिला संयोजक रहे। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि व विशिष्ठ अतिथि केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल और स्थानीय सांसद व केन्द्रीय मंत्री डा.संजीव बालियान मौजूद रहे। कार्यक्रम में विपुल भटनागर की भूमिका को काफी सराहना भी मिली थी। इसके साथ ही उन्होंने परिवर्तन में साजसज्जा प्रमुख व जनपद के प्रभारी मंत्री सतीश महाना के प्रथम बार जनपद आगमन पर उद्यमियों की बैठक का संचालन व संयोजन का कार्य भी बखूबी किया था। विपुल भटनागर इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन लखनऊ के पूर्व चेयरमैन व केन्द्रीय कार्यकारिणी के सदस्य भी रहे हैं। इसके साथ ही वे फैडरेशन आफ मुजफ्फरनगर कामर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के सदस्य, भारत विकास परिषद के कार्यकारिणी सदस्य, रोटरी क्लब मुजफ्फरनगर मिडटाउन के सचिव, प्रयत्न संस्था के महासचिव, वरदान धर्मार्थ नेत्र सेवा संस्थान के कार्यकारिणी सदस्य, पश्चिमी उत्तर प्रदेश संयुक्त उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश सचिव, राष्ट्रीय मानवाधिकार संरक्षण समिति के प्रदेश प्रेस प्रवक्ता, नई मण्डी उद्योग व्यापार मंडल के सदस्य, सर्विसेज क्लब मुजफ्फरनगर के सदस्य, श्री चित्रगुप्त सभा के पूर्व अध्यक्ष, श्रीराम गुरुप आफ कालेज, इंटरनेशनल सेंटर के उपाध्यक्ष, भटनागर सभा दिल्ली के उपाध्यक्ष, अखिल भारतीय कायस्थ महासभा दिल्ली के कार्यकारिणी सदस्य व परिवर्तन संस्था के कार्यकारिणी सदस्य के रूप में अपनी बहुमुखी प्रतिभा को प्रदर्शित कर चुके हैं।

केन्द्रीय वस्त्र एवं महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी





समाज सेवा का गुण उन्हें अपने पिता डाक्टर विश्वनाथ सहाय भटनागर से प्राप्त हुआ

विपुल भटनागर ने खोजी न्यूज को बताया कि समाज सेवा का गुण उन्हें अपने पिता डाक्टर विश्वनाथ सहाय भटनागर से प्राप्त हुआ। समाजसेवा की धुन में उन्हाेंने साथियों के साथ मिलकर एक क्लब बनाया था और उसके माध्यम से उद्योग व व्यापारियों की समस्याओं को सक्षम मंच तक पंहुचाकर उनका समाधान कराते रहे हैं। विपुल भटनागर ने बताया कि हालांकि वे पक्के भाजपाई हैं, लेकिन बचपन के मित्र और कांग्रेसी पंकज अग्रवाल की चेयरमैन के चुनाव में काफी सहयोग किया था। अपने पिता से प्रभावित विपुल भटनागर को इसके बाद नई मण्डी का प्रभारी बनाया गया और उन्होंने जी-तोड़ की। विपुल भटनागर बताते हैं कि उनकी मेहनत रंग लायी और भाजपा के कपिल देव अग्रवाल चुनाव में विजयी हुए। विपुल भटनागर भाजपा के सिम्बल पर वार्ड 32 से सभासद का चुनाव लडे और अपने निकटतम प्रतिद्वंदी दो बार सभासद रहे और सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के समर्थन से चुनाव लड़ रहे दीपक गोयल को 460 मतों से हराकर सभासद की सीट पर कब्जा किया। विपुल भटनागर की मानें तो वे भाजपा के नगर विधायक कपिलदेव अग्रवाल को अपना संरक्षक व पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को राजनीति में अपना आदर्श मानते हैं।

रक्तदान शिविर का आयोजन




एक प्रश्न के जवाब में विपुल भटनागर ने बताया कि उन्होंने अपने वार्ड से लगभग 300 बन्दरों को पकडवाकर शहर से दूर जंगलों में भिजवाया है, क्योंकि वार्डवासी बंदरों के आतंक से बेहद दुखी थे। विपुल भटनागर ने बताया कि उन्होंने स्वयं के खर्च से वार्ड में डस्टबिन लगवाये हैं। इसके साथ ही वार्ड नालियों, गलियों व प्रकाश व्यवस्था के कार्य भी उन्होंने नगरपालिका के सहयोग से कराये हैं।

मुजफ्फरनगर का सौंदर्यीकरण उनका उद्देश्य

विपुल भटनागर ने बताया कि नगर में जो नाला या रजवाहे की नाली जो वर्तमान अनुपयोगी हैं, उन्हें पाटकर उनके ऊपर पार्किंग, पार्क, चाट बाजार, माॅर्निंग वाक के ट्रैक आदि की व्यवस्था करायेंगे। विपुल भटनागर बताते हैं कि 24 प्राथमिक विद्यालयों में टाॅयलेट बनवाने, वहां स्मार्ट क्लास शुरू करवाने सहित सरकारी स्कूलों में अच्छे फर्नीचर की व्यवस्था कराना, सड़कों को गड़ामुक्त कराना व वार्ड के चौराहों का सौंदर्यकरण उनका उद्देश्य है और वे इसके लिए प्रयासरत हैं।

epmty
epmty
Top