भाजपा सरकार शिक्षा व शिक्षक हित में दो कदम पीछेः हेमसिंह पुण्डीर

भाजपा सरकार शिक्षा व शिक्षक हित में दो कदम पीछेः हेमसिंह पुण्डीर

खतौली। उ.प्र. माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट के प्रांतीय उपाध्यक्ष और मेरठ खंड स्नातक सीट से एमएलसी हेम सिंह पुडीर का मानना है कि वर्तमान प्रदेश सरकार शिक्षा और शिक्षकों के मामले में दो कदम आगे बढ़ने के बजाये दो कदम पीछे हटी है। उन्होंने कहा कि माध्यमिक शिक्षक संघ एक जुलाई से ब्लाॅक, तहसील और जनपद स्तर से प्रदेश स्तर तक सरकार की नीतियों के खिलाफ आंदोलन छेड़ेगा।

माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के स्थानीय स्तम्भ और सेवानिवृत शिक्षक रामसिंह सैनी के जीवन के 81 बसंत व गृहस्थ जीवन के 51 वर्ष पूरे होने पर उनके पुत्र सुशील सैनी द्वारा आयोजित मातृ-पितृ सम्मान समारोह में पधारे मेरठ स्नातक सीट से एमएलसी एवं माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष हेमसिंह पुण्डीर ने शिक्षा वाहिनी व खोजी न्यूज से बात करते हुए दो टूक कहा कि वर्तमान में केन्द्र और प्रदेश में भाजपा की मजबूत सरकार होते हुए भी शिक्षा और शिक्षक के हित में दो कदम आगे बढ़ने के स्थान पर दो कदम पीछे हटी है। एमएलसी ने कहा कि प्राथमिक शिक्षा में हालांकि शिक्षकों की नियुक्ति का आधार जिला कैडर होता है, लेकिन आज भी हजारों शिक्षक-शिक्षिकाएं ऐसे हैं जो पश्चिम के निवासी हैं, लेकिन उन्हें पूरब के जनपदों में अपनी सेवाएं देनी पड़ रही हैं। इसी प्रकार सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिकाएं ऐसी हैं, जो निवासी तो पूर्वांचल के हैं, लेकिन उनकी नियुक्ति पश्चिमी उत्तर प्रदेश में की गयी है और उनके ट्रांसफर के नाम तरह-तरह के अडंगे लगाये जा रहे हैं। यहां तक की ट्रांसफर के नाम पर उनकी वरिष्ठता भी प्रभावित हो रही है।

माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष हेमसिंह पुण्डीर ने बताया कि सरकार ने 2004 के बाद शिक्षकों की पुरानी पैंशन प्रणाली को समाप्त करके शिक्षकों पर कुठाराघात किया है। इसके साथ पूर्व सरकार द्वारा घोषित निजी विद्यालयों में कार्यरत पूर्णकालिक शिक्षकों का मानदेय भी इस सरकार ने बंद कर दिया है। शिक्षक नेता ने कहा कि सरकार की इन ज्यातियों के खिलाफ शिक्षा व शिक्षक हित में माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा जुलाई से (गुट) ब्लाॅक, तहसील, जनपद और मंडल स्तर से प्रदेश स्तर तक व्यापक आंदोलन शुरू करेगा।

बता दें कि मेरठ खंड स्नातक सीट पर उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) का वर्ष 1996 से कब्जा चला आ रहा है। हेम सिंह पुंडीर ने 1996 में पहली बार बलबीर सिंह को हरा कर स्नातक सीट का चुनाव जीता था। इसके बाद 2002 और 2008 के चुनाव में हेम सिंह पुंडीर एमएलसी चुनाव जीते थे। वर्ष 2014 में फिर से चैथी बार उन्होंने मेरठ खंड स्नातक सीट पर विजय हासिल करके एमएलसी सीट पर कब्जा किया था।

जानकारों की मानें तो माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष पद रहते हुए उन्होंने जो शिक्षक हित में कार्य किये थे उसी की बदौलत उन्हें विजय मिली थी। एमएलसी एवं शिक्षक नेता हेमसिंह पुण्डीर ने कहा कि शिक्षा व शिक्षकों के हित में वे अब भी पहले की तरह ही सक्रिय हैं। उन्होंने सेवानिवृत्त शिक्षक रामसिंह सैनी की पीठ थपथपाते हुए कहा कि रामसिंह सैनी माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के स्थानीय तौर पर एक मजबूत स्तम्भ हैं। इस अवसर पर माध्यमिक शिक्षक संघ (शर्मा गुट) के प्रदेश अध्यक्ष व एमएलसी ओम प्रकाश शर्मा, जिलाध्यक्ष शिव कुमार यादव सहित विक्रम सिंह सैनी, पूर्व सभासद रमेश सैनी, तेजपाल सैनी, प्रमोद कुमार एडवोकेट, सुशील सैनी व आलोक रावल सहित अनेक कार्यरत व सेवानिवृत्त शिक्षक मौजूद रहे।

सेहत

Top