Top

गंगा में उफान-नदी में बही बल्लियां-10 मीटर कटान ग्रामीणों में दहशत

गंगा में उफान-नदी में बही बल्लियां-10 मीटर कटान ग्रामीणों में दहशत

बिजनौर। पहाड़ों के अलावा मैदानी इलाकों में लगातार हो रही बारिश से गंगा नदी उफान पर आई हुई है। नजीबाबाद के गांव गौसपुर में गंगा नदी के भीतर एक ही रात में तकरीबन 10 मीटर की दूरी में कटान हो गया है। प्रशासन द्वारा आबादी की तरफ खतरे के निशान के रूप में लगाई गई लाल झंडी और बल्लियां गंगा के कटान में बह गई हैं। आबादी की ओर बढ़ रहे कटान को देखकर ग्रामीणों में दहशत का माहौल पसर गया है।

पहाड़ी क्षेत्रों में लगातार हो रही बारिश के चलते नांगल सोती के गांव गोसपुर में गंगा का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। रात के समय गंगा ने गांव की आबादी की तरफ तकरीबन 10 मीटर की दूरी में कटान कर दिया है। जिससे किसानों की कृषि भूमि के साथ-साथ उनकी फसल भी गंगा के भीतर समा गई है। प्रशासन की ओर से गांव की तरफ खतरे के निशान के लिए गंगा में लगाई गई लाल झंडी और बल्लियां भी सवेरे के समय कटान की भेंट चढ़ गई है। गंगा से गांव की दूरी अब महज 50 मीटर की दूरी पर रह गई है। आबादी की तरफ कटान होता हुआ देखकर ग्रामीण रात भर जागने को मजबूर हैं। उधर ग्राम प्रधान अनीता ने गांव में अनाउंसमेंट कराकर ग्रामीणों को गंगा की ओर नहीं जाने और सचेत रहने की अपील की है। ग्राम प्रधान अनीता के नेतृत्व में ग्रामीणों ने बुधवार को गोसपुर के प्राइमरी स्कूल में बैठक की उन्होंने कटान रोकने के लिए प्रशासन और सिंचाई विभाग की कार्यप्रणाली पर गहरा रोष व्यक्त किया है। ग्रामीणों की ओर से प्रशासन से गांव को अन्य स्थान पर विस्थापित कराने और किसानों को कृषि के लिए भूमि दिलाने की मांग करने का निर्णय लिया गया है। बैठक में भंवर सिंह, पूर्व प्रधान राजेश सिंह, लाल सिंह, परमार सिंह, गेंदा सिंह, सुनित, भूदेव सिंह, दीपक कुमार, सुमित, राम सिंह आदि सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।





epmty
epmty
Top