Top

मीडिया हाउसों पर छापे-विपक्ष में उबाल-संसद में हुई गूंज-आप का प्रदर्शन

मीडिया हाउसों पर छापे-विपक्ष में उबाल-संसद में हुई गूंज-आप का प्रदर्शन

नई दिल्ली। मीडिया संस्थान दैनिक भास्कर और भारत समाचार के दफ्तरों पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से की गई छापामार कार्रवाई से विपक्ष में उबाल आ गया है। इस छापेमारी की गूंज संसद में भी सुनाई दी है और कांग्रेस समेत अन्य सभी विपक्षी पार्टियों ने ऐसा हंगामा किया है कि राज्यसभा की कार्यवाही भी कुछ समय के लिए स्थगित करनी पड़ गई। रिटायर्ड आईएएस सूर्य प्रताप सिंह और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एवं आप के राज्यसभा सांसद एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी सांसद संजय सिंह ने इन छापामार कार्यवाहियों पर गहरा रोष जताते हुए केंद्र सरकार के साथ भाजपा की भी निंदा की है।

बृहस्पतिवार को आयकर विभाग की ओर से देश के जाने-माने मीडिया घराने दैनिक भास्कर समूह के विभिन्न शहरों में स्थित परिसरों के अलावा भारत समाचार के तीन ठिकानों पर एक साथ की गई छापामार कार्यवाही से देश के विपक्षी राजनीतिक दलों में उबाल आ गया है। छापामार कार्यवाही को लेकर कांग्रेस नेता जयराम नरेश से लेकर दिग्विजय सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कांग्रेस के दिग्गज नेता जयराम रमेश ने ट्वीट किया है कि अपनी रिपोर्टिंग के जरिए दैनिक भास्कर और भारत समाचार की ओर से कोरोना वायरस की दूसरी लहर के दौरान सरकार के कुप्रबंधन का खुलासा किया गया था। छापेमारी के जरिये अब इन मीडिया संस्थानों को इसकी कीमत चुकानी पड़ रही है। उन्होंने कहा है कि यह अघोषित आपातकाल है जैसा अरुण सोरी कहते हैं कि यह मॉडिफाइड इमरजेंसी है। उधर आयकर विभाग की छापेमारी को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा है कि दैनिक भास्कर और भारत समाचार पर आयकर विभाग के छापे मीडिया को डराने का प्रयास है। छापेमारी के जरिए सरकार का साफ संदेश है कि जो भी भाजपा सरकार के खिलाफ बोलेगा वह उसे बक्शेंगे नहीं। उन्होंने कहा है कि ऐसी सोच बेहद खतरनाक है, सभी को इसके खिलाफ आवाज उठानी चाहिए। उन्होंने कहा है कि सरकार बदले की भावना के तहत करा रही छापेमारी को तुरंत बंद करें और मीडिया को स्वतंत्र रूप से काम करने दिया जाए। राज्यसभा में आप सांसद संजय सिंह ने मीडिया संस्थानों पर की गई छापामार कार्रवाई की निंदा करते हुए शुक्रवार को पार्टी की ओर से समूचे उत्तर प्रदेश में प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार मीडिया की आवाज को दबाना चाहती है। इस बात को मैं सदन में भी उठाने वाला हूं। राज्यसभा में भी मीडिया हाउसों पर छापे की आवाज उठाई जाएगी। उन्होंने कहा है कि सदन से लेकर सड़क तक इस मामले को लेकर प्रदर्शन होगा।





epmty
epmty
Top