Top

ट्रेन के साथ लगाई रेस - कार के उड़े परखच्चे

ट्रेन के साथ लगाई रेस - कार के उड़े परखच्चे

वाराणसी। पटरियों पर दौड़ रही रेलगाड़ी के साथ रेस लगाने की कोशिश में अनियंत्रित हुई तेज रफ्तार कार डिवाइडर से भिड़ने के बाद उछल कर दूसरी लेन में पहुंच गई इस दौरान तेजी के साथ आ रहे ट्रेलर ने कार के परखच्चे उड़ा दिए जिससे कार में बैठी महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई । सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं।

प्रयागराज के अंदावा के रहने वाले अखिलेश पटेल सहारा परिवार फाइनेंस में नौकरी करते हैं। अखिलेश पटेल की मां लीलावती और बड़े बेटे आशुतोष को बिहार के सिवान जाने के लिए प्रयागराज से ट्रेन पकड़नी थी। बुधवार को एक कार से लीलावती, आशुतोष, परिवार के अजित और अखिलेश का छोटा भाई शैलेश दिन निकलने के समय चार बजे स्टेशन के लिए निकले।

कार शैलेश चला रहा था। आगे सीट पर अजित पिछली सीट पर लीलावती, उनका पोता चंदन बैठे थे। चारों कार से प्रयागराज स्टेशन पहुंचे तो ट्रेन निकल चुकी थी। ऐसे में ट्रेन को अगले स्टापेज से पकड़ने के लिए सभी ने भदोही के गोपीगंज स्टेशन जाने का फैसला किया। तेज रफ्तार से कार भदोही के गोपीगंज स्टेशन पहुंची। लेकिन तब तक ट्रेन यहां से भी निकल चुकी थी। ट्रेन का अगला स्टापेज वाराणसी था। अब वाराणसी में ट्रेन को पकड़ने का फैसला किया गया। ट्रेन से भी तेज वाराणसी पहुंचने की कोशिश शुरू हुई। इसी दौरान हाईवे पर राजातालाब बीरभानपुर के पास तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई। कार डिवाइडर से टकराने के बाद उसे पार करते हुए दूसरी लेन में चली गई। इसी दौरान सामने से आ रहे ट्रेलर ने कार को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में कार के परखचे उड़ गए। आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस पहुंची लेकिन कार में बुरी तरह फंसे लोगों को निकालने में ही कई घंटे लग गए। इस दौरान लीलावती, उनके पोते और अजीत की मौत हो गई। शैलेश को गंभीर हालत में अस्पताल भेजा गया है।





epmty
epmty
Top