Top

पुलिस ने ब्रू लड़कियों को कराया मुक्त

पुलिस ने ब्रू लड़कियों को कराया मुक्त

अगरतला। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला स्थित बस अड्डे से बाल श्रमिक रैकेट की जाल में फंसी 11 ब्रू लड़कियों को पुलिस ने मुक्त कराया है।

पुलिस ने बुधवार शाम ब्रू लड़कियों को बाल श्रमिक गिरोह के चंगुल से मुक्त कराया। इस संबंध में हालांकि अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

सभी मुक्त करायी गयी लड़कियों को चाइल्ड लाइन की ओर से संचालित आश्रय गृह में भेजा गया है। सभी को बाल कल्याण समिति के समक्ष भी पेश किया गया।



रिपोर्ट के मुताबिक सभी औपचारिकतायें पूरी करने के बाद इन लड़कियों को उनके परिवार के सदस्यों को सौंप दिया जाएगा। पश्चिम त्रिपुरा के पुलिस अधीक्षक मानिक लाल दास ने कहा कि गिरोह का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है।

रिपोर्ट में कहा गया कि चाइल्ड लाइन अधिकारियों को सूचना मिली थी कि चंद्रपुर अंतरराज्यीय बस अड्डे पर कुछ नाबालिग लड़कियों के साथ एक व्यक्ति संदिग्ध अवस्था में घूम रहा है। इस सूचना के आधार पर पुलिस ने सभी बच्चों को वहां से मुक्त कराया।

बताया जाता है कि संदिग्ध व्यक्ति ने लड़कियों एवं उनके माता-पिता को अगरतला के विभिन्न स्थानों पर घरेलू मदद करने के एवज में आकर्षक वेतन का लालच दिया था। पुलिस के मुताबिक सभी मुक्त करायी गयी लड़कियां उत्तरी त्रिपुरा के ब्रू विस्थापित शिविर की हैं। इनमें से केवल दो की उम्र 18 वर्ष है जबकि शेष सभी नाबालिग हैं। इन लड़कियों ने यह भी खुलासा किया कि तीन अन्य लड़कियों काे काम के लिए मंडाई एवं जीरानिया भेजा गया है।

वार्ता

epmty
epmty
Top