Top

मत्स्य अंगुलिका संचय प्रोत्साहन योजना प्रारम्भ

मत्स्य अंगुलिका संचय प्रोत्साहन योजना प्रारम्भ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में मत्स्य उत्पादकता बढ़ाये जाने के लिए उ0प्र0 मत्स्य जीवी सहकारी संघ द्वारा मिशन फिंगरलिंग के अन्तर्गत वर्ष 2019-20 में समिति को आवंटित जलाशयों एवं तालाबों में 70-100 एम0एम0 के मत्स्य अंगुलिका संचय पर प्रोत्साहन की योजना सदस्य समितियों के लिए प्रारम्भ की गई है। इस प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत उ0प्र0 मत्स्य विकास निगम लि0 की हैचरी/विभागीय मत्स्य प्रक्षेत्रों, भारत सरकार के संस्थानों एवं विश्वविद्यालयों में स्थापित हैचरी/नर्सरियों से क्रय कर संचित की जाने वाली मत्स्य अंगुलिकाओं के मूल्य पर 10 प्रतिशत प्रोत्साहन धनराशि समिति के खाते में सीधे उपलब्ध कराई जायेगी।

यह जानकारी आज यहां उ0प्र0 मत्स्य जीवी सहकारी संघ लि0 लखनऊ की प्रबन्ध निदेशक अंजना वर्मा ने दी। उन्होंने बताया कि योजना का लाभ लेने हेतु सदस्य समितियों को आवंटित जलक्षेत्र का प्रमाण-पत्र, क्रय किये गये मत्स्य अंगुलिकाओं का बीजक/चालान, मत्स्य अंगुलिका संचय के दो फोटोग्राफ, मत्स्य अंगुलिका संचय संबंधी जनपदीय अधिकारी का प्रमाण-पत्र एवं धनराशि खाते में हस्तानान्तरित किये जाने हेतु बचत खाता संख्या एवं आई0एफ0एस0सी0 कोड सहित पासबुक की छायाप्रति संघ कार्यालय को उपलब्ध कराना होगा। प्रबन्ध निदेशक ने बताया कि इस योजना से समितियों को अंगुलिका संचय पर आर्थिक सहायता मिलने के साथ-साथ प्रदेश के मत्स्य उत्पादन एवं उत्पादकता में वृद्धि हेतु व्यापक प्रभाव पड़ेगा।


epmty
epmty
Top