Top

बैठक में डीएम कौशल राज शर्मा ने दिये गौवंश के उचित प्रबन्ध के निर्देश

बैठक में डीएम कौशल राज शर्मा ने दिये गौवंश के उचित प्रबन्ध के निर्देश

लखनऊ। नागरिक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए आयोजित बैठक में जिलाधिकारी एवं लखनऊ विकास प्राधिकरण के वीसी कौशलराज शर्मा ने कहा कि बैठक में खुले घूम रहे आवारा पशुओं को पकड़ने के बारे में मंथन किया गया।

जिलाधिकारी लखनऊ व लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष कौशलराज शर्मा ने गौवंश के उचित प्रबन्ध करने निर्देश देते हुए बताया गया कि अमौसी क्षेत्र में लगभग 1 करोड़ की लागत से गौ आश्रय केंद्र का निर्माण कराया जा रहा है, जो जल्द ही मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को हैण्डओवर कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पशुपालन विभाग गौ आश्रय स्थल में अन्य सुविधाएं जैसे शेड, बाउंड्री वाल व भूसा केंद्र के बनाने के लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा उक्त व्यवस्थाओं की पूर्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि लखनऊ विकास प्राधिकरण व आवास विकास परिषद द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में अमौसी में दिए जा रहे गौ आश्रय स्थल के अतिरिक्त भी आवश्यकतानुसार कुछ स्थानों पर अस्थाई रूप से स्थलों का चिन्हाकन कर लिया जाए, जिसमें आवारा पशुओं को अस्थाई शेड आदि बनाकर बनाकर रखा जा सके।

नगर आयुक्त इन्दमणि त्रिपाठी ने बताया कि आवारा पशुओं को आवासीय क्षेत्रों से पूरी तरह से हटाया जाना सेनेटाइजेशन का ही हिस्सा है, क्योंकि आवारा पशुओं द्वारा रास्तों में गोबर आदि करके गंदगी तो की ही जाती है साथ ही कूड़ाघर आदि में जाकर कूड़े को खाया तथा फैलाया जाता है और यदि पशु की मृत्यु हो जाती है तो संक्रमण आदि फैलने का खतरा भी बना रहता हैं। उन्होंने बताया कि आवारा पशुओं को आवासीय क्षेत्रों से हटाए जाने का कार्य सेनेटाइजेशन की मद से किया जा सकता है। इसके लिए अलग से बजट की जरूरत नहीं है।

नगर आयुक्त ने कहा कि यदि लखनऊ विकास प्राधिकरण तथा उ0प्र0 आवास एवं विकास परिषद सभी संसाधन उपलब्ध कराएं तो नगर निगम के अधिकारी अपने दायित्वों में से ही कुछ समय निकालकर अपने मार्गदर्शन में यह कार्य करा सकते हैं।

epmty
epmty
Top