Top

जंतर मंतर पर किसानों को धरने की इजाजत-संख्या भी निर्धारित

जंतर मंतर पर किसानों को धरने की इजाजत-संख्या भी निर्धारित

नई दिल्ली। काफी समय तक चली गहमागहमी के बाद दिल्ली सरकार की ओर से नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों को जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन करने की इजाजत दे दी गई है। आंदोलनकारी किसानों की संख्या निर्धारित करते हुए धरना प्रदर्शन के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करने के लिए कहां गया है।

बुधवार की दोपहर किसान नेता युद्धवीर मालिक, नई दिल्ली इलाके के जॉइंट कमिश्नर जसपाल सिंह, डीसीपी नई दिल्ली दीपक यादव समेत कई अधिकारी जंतर-मंतर पहुंचे। जंतर मंतर पर जायजा लिया गया कि अगर प्रोटेस्ट किया जाएगा तो अलग अलग बॉर्डर से आए किसान प्रोटेस्टर कहां बैठेंगे। किसान आंदोलन तेज़ करने के लिए गुरुवार से पूरे संसद सत्र 200 किसान हर रोज़ सिंघु बार्डर से संसद मार्च करेंगे, दिल्ली पुलिस ख़ुद किसानों को अपने साथ जंतर मंतर तक ले जाएगी। मंगलवार दिनभर संयुक्त किसान यूनियन के नेता संसद मार्च की रणनीति बनाते नज़र आए. किसानों का कहना है कि वो संसद के बाहर अपनी किसान संसद लगाएंगे। हर रोज़ 200 किसानों को पहचान पत्र दिया जाएगा जो संसद की ओर मार्च करेंगे। किसानों का कहना है कि अगर उन्हें दिल्ली पुलिस ने रोका तो वो चुपचाप बिना ज़बरदस्ती किए गिरफ़्तारी देंगे।





epmty
epmty
Top