Top

PM मोदी की टीम के पूर्व IAS की BJP में हुई एंट्री

PM मोदी की टीम के पूर्व IAS की BJP में हुई एंट्री

लखनऊ। प्रधानमंत्री कार्यालय के पूर्व आईएएस अधिकारी और वर्ष 1988 के गुजरात कैडर के आईएएस अरविंद शर्मा भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में उनकी बीजेपी में एंट्री हुई। भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद पूर्व आईएएस एके शर्मा ने कहा कि मैं पार्टी में आने पर खुश हूं।


गौरतलब है कि बीते सोमवार को भी ही पूर्व आईएएस एके शर्मा ने भारतीय प्रशासनिक सेवा से वीआरएस लिया था। बृहस्पतिवार को लखनऊ में भाजपा में शामिल हुए एके शर्मा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी बताए जाते हैं। एके शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुजरात का मुख्यमंत्री रहते समय उनके साथ काम किया था। गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद पूर्व आईएएस एके शर्मा भी दिल्ली आए और पीएमओ में अधिकारी बनाए गए। उन्होंने पहले सीएमओ और फिर पीएमओ में अपनी अहम भूमिका निभाई। भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद पूर्व आईएएस अरविंद कुमार शर्मा ने कहा कि मैं पार्टी में शामिल होकर आज अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। वैसे तो देश में बहुत सारे दल और पार्टियां हैं। मैं किसी राजनीतिक दल से संबंधित नहीं हूं, फिर भी भाजपा जैसी पार्टी का सदस्य बन गया हूं।


यह काम भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा ही कर सकती है। इस दौरान उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि पूर्व आईएएस अरविंद शर्मा पहले से ही कई सामाजिक कार्यों में भागीदारी करते रहे हैं। वह ईमानदार छवि के हैं। उल्लेखनीय है कि पूर्व आईएएस अरविंद कुमार शर्मा मूल रूप से उत्तर प्रदेश के मऊ के रहने वाले हैं। उनका जन्म मऊ जिले में 11 अप्रैल सन 1962 को हुआ था। वर्ष 1988 बैच के गुजरात कैडर के आईएएस एके शर्मा के पिता का नाम शिव मूर्ति है। अरविंद कुमार शर्मा ने पॉलिटिकल साइंस में प्रथम क्लास से उत्तीर्ण होकर मास्टर डिग्री हासिल की है। पूर्व आईएएस अरविंद कुमार शर्मा का रिटायरमेंट 2022 में होना था, लेकिन उन्होंने अचानक इसी सोमवार को वीआरएस ले लिया। अब उम्मीद लगाई जा रही है कि बृहस्पतिवार को भाजपा में शामिल हुए पूर्व आईएएस एके शर्मा को उत्तर प्रदेश में कोई बड़ी और अहम जिम्मेदारी मिल सकती है।

epmty
epmty
Top