Top

कांग्रेस के बढ़ते असर से डरी और सहमी हुई है योगी सरकारः अजय लल्लू

कांग्रेस के बढ़ते असर से डरी और सहमी हुई है योगी सरकारः अजय लल्लू

लखनऊ उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा है कि प्रदेश में कांग्रेस के बढ़ते प्रभाव से योगी सरकार बौखला गयी है। उत्तर प्रदेश सरकार डरी और सहमी हुई है। इसी का नतीजा है कि हताश और निराश योगी सरकार अब कांग्रेस नेताओं, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को फर्जी मुकदमों में फंसाकर जेल भेज रही है। गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा मोना के साथ प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए अजय कुमार लल्लू ने कहा, पिछले दिनों कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शाहनवाज आलम को गिरफ्तार किया गया।

लल्लू ने कहा कि शाहनवाज आलम की ऐसे मामले में गिरफ्तार किया गया है, जिसमें न उनके खिलाफ कोई एफआईआर दर्ज है, न मुकदमा दर्ज और न ही चार्जशीट में उनका नाम है। रात को चुपके से योगी सरकार के अधिकारियों ने कांग्रेस नेता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। लल्लू ने कहा, प्रदेश भर में कांग्रेस के सैकड़ों पदाधिकारी व कार्यकर्ता पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, कानून व्यवस्था, दलितों, पिछड़ों, वंचितों व शोषितों को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर संघर्ष कर रहे हैं। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि प्रदेश का कोई भी ऐसा जनपद नहीं बचा है, जहां कांग्रेस पदाधिकारियों के खिलाफ मुकदमा न लिखा गया हो।

लल्लू ने कहा, हम राहुल गांधी के सिपाही हैं। हम डरने वाले लोग नहीं हैं। इस सरकार के जुल्म और ज्यादती के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रहेगा। जेल, लाठी और मुकदमा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को डरा नहीं सकता। कहा, प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का हर कार्यकर्ता गरीबों, शोषितों व वंचितों की आवाज बनेगा। लल्लू ने कहा, दो दिन पहले सरकार के खिलाफ आंदोलन करने पर हम सभी को गिरफतार कर ईको गार्डन में बैठा दिया गया था। इसके अगले दिन पत्रकारों के माध्यम से हमें पता चला कि लखनऊ पुलिस ने हमारे 4 पदाधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। सीओ हजरतगंज ने बताया कि कांग्रेस पदाधिकारियों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, हम सरकार से जानना चाहते हैं कि यह किसके इशारे पर हो रहा है? लल्लू ने कहा, पुलिस ने जिन चार कांग्रेस पदाधिकारियों के नाम मुकदमा दर्ज किया है, उनमें कांग्रेस की सोशल मीडिया के इंचार्ज मोहिन पांडेय उसी दिन शाम को दिल्ली से लखनऊ पहुंचे थे। लल्लू ने शाम 5 बजे मोहिन पांडेय द्वारा कटाई गयी टोल टैक्स की रसीद भी दिखाई। कांग्रेस महासचिव मनोज यादव के नाम भी हजरतगंज पुलिस ने महामारी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। जबकि उस दिन मनोज यादव पूरे समय हम सभी के साथ ईको गार्डन में मौजूद रहे थे। शाम को उन्हें मुचलके पर छोड़ा गया था।

तीसरे कांग्रेस नेता अनूप गुप्ता के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है, जबकि उस दिन अनूप गुप्ता पूरे दिन प्रदेश कार्यालय में अपने कमरे में बैठे रहे। लल्लू ने कहा कि इस बात के सीसीटीवी साक्ष्य भी मौजूद हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इन फर्जी मुकदमों से साफ है कि यह सरकार हमें डराना चाहती है। ताकि कांग्रेस कार्यकर्ता विरोध करना बंद कर दें। लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, सरकार के इशारे पर कांग्रेस कार्यालय की मुखबिरी कराई जा रही है। अंग्रेजों की मुखबिरी करने वाले लोग आज कांग्रेस कार्यालय की पुलिस व खुफिया एजेंसियों से मुखबिरी व रेकी करवा रहे हैं। लल्लू ने कहा कि महीने भर पहले कांग्रेस पार्टी कार्यालय के गेट पर पुलिस का पहरा रहता है। हर रोज देर रात तक आखिर पुलिस हमारे कार्यालय पर क्या करती है?

प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए आराधना मिश्रा मोना ने योगी सरकार के पुलिसिया राज की निंदा की। कांग्रेस नेताओं के खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज करने और गिरफ्तारियों को राजनीतिक द्वेषपूर्ण और कायरता भरा कदम बताया। कहा कि सरकार विपक्ष की आवाज की दबाना चाहती। कांग्रेस के बढ़ते प्रभाव से योगी सरकार की बौखलाहट साफ दिख रही है।

मोना ने कहा कि सत्ता पोषित दमन से हम कांग्रेस राहुल-प्रियंका के सिपाही डरेंगे नहीं, सड़क पर संघर्ष करेंगे। कांग्रेस में संघर्ष की लम्बी और शानदार परंपरा रही है, लोकतंत्र को बचाने के लिए दलित-पिछड़ा विरोधी योगी सरकार के खिलाफ अब हम सड़कें गरम करेंगे। कहा इलाहाबाद विश्वविद्यालय के लोकप्रिय छात्रनेता रहे और दलितों-वंचितों के लड़ाई लड़ने वाले यूपी अल्पसंख्यक कांग्रेस के चेयरमैन शाहनवाज आलम की असंवैधानिक गिरफ्तारी योगी आदित्यनाथ की सरकार को बहुत महंगी पड़ेगी।

epmty
epmty
Top