Top

बोली प्रियंका-CM की लापरवाही पड ना जाए भारी- दफ्तर दे रहा गलत जानकारी

बोली प्रियंका-CM की लापरवाही पड ना जाए भारी- दफ्तर दे रहा गलत जानकारी

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि राजधानी लखनऊ समेत राज्य में कोरोना संक्रमण के हालात गंभीर हो रहे हैं। कोविड-19 व्यक्ति के संपर्क में आने के बाद भी सीएम रैलियों में जा रहे हैं। उनका कार्यालय कोविड-19 से होने वाली मौतों के गलत आंकड़े दे रहा है।

बृहस्पतिवार को अपने ट्विटर हैंडल पर टवीट करते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा है कि मीडिया से मिल रही रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं। इसके बावजूद भी सीएम रैलियों में जाकर उन्हें संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि उनका कार्यालय कोविड-19 से होने वाली मौतों के गलत आंकड़े पेश कर रहा है।

उन्होंने कहा कि मिल रही खबरों के मुताबिक राजधानी लखनऊ के शवदाह गृह और अस्पतालों में लंबी वेटिंग है। जिससे लोगों में दहशत का माहौल है। उन्होंने कहा कि जिन का कार्य जवाबदेही और पारदर्शिता का है वह लोग खुद गैर जिम्मेदार साबित हो रहे हैं। कोरोना महामारी जैसे संकट के ऐसे समय में नेताओं को सत्यता और सही आचरण का उदाहरण पेश करना चाहिए। जिससे कि लोग उनके ऊपर भरोसा कर सकें।

गौरतलब है कि राजधानी लखनऊ में कोरोना के संक्रमण की चपेट में आकर हुई मौत के बाद 12 घंटे तक भी शवदाह गृहों में शवों का अंतिम संस्कार नहीं हो पा रहा है। प्रयागराज के मेडिकल कॉलेज से सेवानिवृत्त डॉ मिलिंद मुखर्जी के अंतिम संस्कार के लिए परिवारीजन सुबह से लेकर देर रात तक बैकुंठधाम भैसा कुंड के विद्युत शवदाह गृह के बाहर एंबुलेंस में उनके शव के साथ अपनी बारी के आने का इंतजार करते रहे। इसी तरह कई अन्य परिवार भी शवदाह गृह पर अपनी बारी के इंतजार में बैठे रहे। शवदाह गृह के बाहर कोरोना से मरे लोगों के शव लेकर आई एंबुलेंसों की कतार लगी रही। बुधवार रात 11.00 बजे तक 27 शवों का अंतिम संस्कार कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए हो चुका था।



epmty
epmty
Top