CM के बाद दोनों डिप्टी CM को भी लड़ना होगा चुनाव-सीटें यहां से की तय

CM के बाद दोनों डिप्टी CM को भी लड़ना होगा चुनाव-सीटें यहां से की तय

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या विधानसभा सीट से चुनाव लड़ाने की तैयारी कर चुकी भारतीय जनता पार्टी अब दोनों डिप्टी सीएम को भी चुनाव मैदान में उतारने के लिए जा रही है। पार्टी के भीतर बन रही सहमति के बाद दोनों डिप्टी सीएम के लिए सीटों का निर्धारण भी कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मजबूती के साथ एक बार फिर से उतरने के लिए जा रही भारतीय जनता पार्टी की ओर से मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या विधानसभा सीट से चुनाव लड़ाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। अब राज्य के भीतर दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एवं दिनेश शर्मा को भी विधानसभा चुनाव में उतारने पर सहमति बनती दिख रही है। बताया जा रहा है कि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को कौशांबी जनपद की सिराथू विधानसभा सीट से टिकट देते हुए मैदान में उतारा जा सकता है। यह उनकी पारंपरिक सीट भी रही है। केशव प्रसाद मौर्य भारतीय जनता पार्टी के भीतर बड़े पिछड़ा वर्ग के नेताओं के तौर पर जाने जाते हैं। उधर कैबिनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य एवं धर्म सिंह सैनी समेत कई अन्य ओबीसी नेताओं के भाजपा छोड़कर चले जाने के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की अहमियत भाजपा के भीतर और भी अधिक बढ़ गई है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को चुनाव मैदान में उतारकर भारतीय जनता पार्टी ओबीसी वोट बैंक को साधने की कोशिशों में जुट गई है। उल्लेखनीय है कि सिराथू विधानसभा सीट पर पांचवें चरण के अंतर्गत चुनाव होना है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के अलावा दूसरे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा को लखनऊ की 3 में से किसी एक विधानसभा सीट से उतारने की भाजपा की ओर से तैयारियां की जा रही है। मिल रही जानकारी के मुताबिक एक तरफ भाजपा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अयोध्या सीट से उतारकर हिंदुत्व के एजेंडे को धार देना चाहती है। इसके अलावा दिनेश शर्मा को ब्राह्मण चेहरे एवं केशव प्रसाद मौर्य को ओबीसी चेहरे के तौर पर चुनाव मैदान में प्रस्तुत करने की तैयारी है। पूरी आक्रामकता के साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एवं दिनेश शर्मा को चुनाव मैदान में उतारा जा सकता है।



epmty
epmty
Top