अधिकारी शासन की मंशानुसार विकास योजनाओं को अमलीजामां पहनायें : जिलाधिकारी

अधिकारी शासन की मंशानुसार विकास योजनाओं को अमलीजामां पहनायें : जिलाधिकारी

शामली विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकारी शासन की मंशानुसार विकास योजनाओं को अमलीजामां पहनायें। उन्होंने कड़े निर्देश देते हुए कहा कि विकास कार्यों में किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेंगी। उन्होंने कहा कि मासिक समीक्षा बैठक में लिये गये निर्णयों का अनुपालन न करने वाले अधिकारियों को चिन्हित कर दण्ड़ित किया जायेगा। तथा समय रहते जिन विभागों द्वारा परियोजनाओं को पूरा नहीं किया जायेगा। ऐसे विभागों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध भी सख्त कार्यवाही की जायेंगी। उन्होंने कहा कि कुपोषण के विरूद्ध कार्यवाही ना करने वाले कर्मियों को चिन्हित कर दण्ड़ित करने का निर्देश दिए।


प्राथमिक व सामुदायिक चिक्तिसा केन्द्रों पर जो चिकित्सक अनुपस्थित रहते है ऐसे चिकित्सकों पर कार्यवाही के निर्देश


जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में मासिक समीक्षा बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पिछली बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये गये थे, कि प्राथमिक व सामुदायिक चिक्तिसा केन्द्रों पर जो चिकित्सक अनुपस्थित रहते है ऐसे चिकित्सकों पर कार्यवाही के भी निर्देश दिए गये थे। इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि आप के निर्देशन से लगातार निरीक्षण किया जा रहा है। और निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित दो चिकित्सकों पर कार्रवाई की गई है। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को प्राथमिक एवं सामुदायिक चिकित्सा केन्द्रों का निरंतर औचक निरीक्षण के निर्देश दिये गये। उन्होंने सभी विभागों को कठोर चेतावनी देते हुए कहा कि समीक्षा बैठक में लिये गये निर्णयों का शत्-प्रतिशत पालन किया जाये और पालन न करने वाले अधिकारियों को अब बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि चिकित्सालयों की रेडम चैकिंग करायी जाये। उनके द्वारा 181-महिला हेल्प लाईन की समीक्षा की गई।


अस्थाई गौशालाओं में पशुओं को सर्दी से बचाव के लिए मोटी त्रिपाल लगाई जाए


जिलाधिकारी ने बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए की ऐसे गांव में 06 माह से 5 वर्ष तक का कोई बच्चा डब्ल्यू0एच0ओ0 ग्रोथ चार्ट के अनुसार लाल श्रेणी में न हों इसके लिए उनके खान-पान पर ध्यान रखने के लिए परिजनों के बीच जागरूकता लाई जायें। उन्होंने कहा कि जिन विभागों की कार्य योजना अधूरी है उसे पूर्ण करते हुए लक्ष्य को जल्द पूर्ण किया जाये। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जिन विभागों का लक्ष्य के सापेक्ष कार्य पूर्ण नहीं है ऐसे अधिकारियों पर कार्यवाही की जायेगी। बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारी द्वारा बताया गया कि यूनिफॉर्म वितरण शत प्रतिशत हो चुका है। समीक्षा बैठक में पीडब्ल्यूडी द्वारा किये जा रहे गड्ढा मुक्त कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने एक्सियन को निर्देशित करते हुए कहा कि गड्ढा मुक्ति के दौरान गुणवत्ता का विशेष रूप से ध्यान रखा जायें। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। इस दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि अस्थाई गौशालाओं में पशुओं को सर्दी से बचाव के लिए मोटी त्रिपाल लगाई जाए उनको सर्दी से बचाया जा सके।


जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराते हुए पात्र लाभार्थियों को योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिलाया जायें


समीक्षा बैठक के उपरान्त जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए गये कि शासन द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराते हुए पात्र लाभार्थियों को योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिलाया जायें।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शम्भूनाथ तिवारी, मुख्य चिकित्साधिकारी संजय भटनागर, परियोजना निदेशक ज्ञानेश्वर तिवारी, जिला विकासधिकारी प्रमोद कुमार, कृषि उप निदेशक शिव कुमार केसरी सहित सभी विभागों के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

सेहत

Top