कांग्रेस ने एक बार फिर गैर-भरोसेमन्द व धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है : मायावती

कांग्रेस ने एक बार फिर गैर-भरोसेमन्द व धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है : मायावती

नई दिल्ली । बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी के विधायकों का कांग्रेस में शामिल होने पर गुस्से का इजहार करते हुए ट्वीट किया कि



राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने एक बार फिर बीएसपी के विधायकों को तोड़कर गैर-भरोसेमन्द व धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है। यह बीएसपी मूवमेन्ट के साथ विश्वासघात है जो दोबारा तब किया गया है जब बीएसपी वहाँ कांग्रेस सरकार को बाहर से बिना शर्त समर्थन दे रही थी।



कांग्रेस हमेशा ही बाबा साहेब डा भीमराव अम्बेडकर व उनकी मानवतावादी विचारधारा की विरोधी रही। इसी कारण डा अम्बेडकर को देश के पहले कानून मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। कांग्रेस ने उन्हें न तो कभी लोकसभा में चुनकर जाने दिया और न ही भारतरत्न से सम्मानित किया। अति-दुःखद व शर्मनाक है।

Top