Top

गलत टिप्पणी और भ्रामक प्रचार करने पर होगी कड़ी कार्रवाई : कोतवाल अनिल कपरवान

गलत टिप्पणी और भ्रामक प्रचार  करने पर होगी कड़ी कार्रवाई : कोतवाल अनिल कपरवान

मुजफ्फरनगर । मुजफ्फरनगर पुलिस ने अयोध्या में बाबरी मस्जिद और रामजन्म भूमि के लिए सुप्रीम कोर्ट से आने वाले फैसले को साम्प्रदायिक सौहार्द्र और भाईचारा के साथ स्वीकार करने की पहल करते हुए रामपुरी में बैठक की।






पुलिस प्रशासन पूरी तरह से शांति कायम करने के लिए प्रतिबद्ध है

मुजफ्फरनगर एसएसपी अभिषेक यादव के निर्देश पर सदर कोतवाल अनिल कपरवान ने संवाद के साथ लोगों तक आपसी सदभाव का संदेश पहुंचाने का काम किया। लोगों से अपने सामाजिक और नागरिक दायित्व निभाने की अपील करते हुए कहा कि यह जनपद आपका है, यहां माहौल बिगड़ने ना दें।असामाजिक तत्वों पर नजर रखें और सोशल मीडिया पर कोई भी भ्रामक प्रचार या गलत टिप्पणी वायरल ना करें और ना ही होने दें। ऐसे लोगों के साथ प्रशासन सख्त से सख्त तरीके अपनाकर निपटेगा। पुलिस प्रशासन पूरी तरह से शांति कायम करने के लिए प्रतिबद्ध है, समाज सकारात्मक दृष्टिकोण से सहयोग देगा तो हम बेहतर परिणाम के साथ एक सुखद वातावरण को बनाने में सफल रहेंगे। इस फैसले पर सार्वजनिक टिप्पणी करने से बचें और अपने जनपद को नम्बर वन बनाने के लिए चलाये जा रहे कार्यक्रमों में भागीदार बनें।







साम्प्रदायिक सौहार्द्र और भाईचारा सभा का संचालन डॉ फुरकान मलिक ने किया

शनिवार को रामपुरी स्थित काजिम गौर के आवास पर बैठक की। जिसका संचालन डॉ फुरकान मलिक ने किया। वार्ड के सभी जिम्मेदार लोगों ने अपने- अपने विचार व्यक्त किये। जिनमें नदीम खान सभासद, नूर मोहम्मद, बल्लू दीवान, सफाई नायक शिवकुमार, हाजी इदरीस, डॉ मुजम्मिल खान, अजय तोमर ,पवन वर्मा अखिलेश उपाध्याय, सेवाराम ने अपने विचार रखे।





दोनों समुदाय के लोगो ने एक साथ हाथ उठाकर प्रशासन को यह आश्वासन दिया कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं


सभा में अनोखी बात यह रही कि सभा में मौजूद दोनों समुदाय के लोगो ने एक साथ हाथ उठाकर प्रशासन को यह आश्वासन दिया कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं और फैसला चाहे जो भी हो हम अपने वार्ड में किसी भी तरह का झगड़ा,दंगा -फसाद नही होने देंगे । साथ ही साथ वार्ड के लोगो ने भी फैसला लिया कि दोनों समुदाय से पांच -पांच लोगों की टीम बनाकर अपने वार्ड के चौराहों पर ,फैसले वाले दिन तैनात रहेंगे और प्रशासन का कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग करेंगे।






सोशल मीडिया के माध्यम से किसी भी तरह की अफवाह फैलाने वाले पर तुरंत कार्रवाई


इस मौके पर दोनों समुदाय के लोगो ने एक साथ हाथ उठाकर प्रशासन को यह आश्वासन दिया कि हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैंकि वार्ड के जिम्मेदार लोगों की सूची तैयार की जाएगी ।तथा उनको पुलिस के साथ सहयोग करने के लिए ड्यूटी भी लगाई जाएगी। शहर में व्हाट्सएप, फेसबुक, सोशल मीडिया के माध्यम से किसी भी तरह की अफवाह फैलाने वाले पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।






इस मौके पर राष्ट्रीय सहारा से जिला प्रभारी शाहनवाज अंसारी ,अमित तेवतिया, अस्पताल चौकी इंचार्ज भूपेंद्र शर्मा, हेड कांस्टेबल सतीश चपराना, जितेंद्र शर्मा (चौकी प्रभारी रामलीला टिल्ला ) संदीप त्यागी, रोहित तेवतिया, आरिफ सिद्दीकी, सफीक, नवाब अंसारी ,हनीफ अंसारी ,दिलशाद मेहरबान ,अनवर, रिजवान आदि वार्ड वासी मौजूद रहे।








शराब के ठेके और इंटरनेट बन्द कराने की मांग

अयोध्या के फैसले को लेकर जनपद में साम्प्रदायिक सद्भाव बनाने की पहल के अन्तर्गत मीटिंग में सभी लोगो ने फैसले के एक दिन पहले ही जनपद में शराब के ठेके के साथ ही इंटरनेट सेवाओं को बन्द कराये जाने का सुझाव प्रमुख रूप से दिया। रोग मुक्त समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ फुरकान मालिक ने कहा कि सोशल मीडिया ऐसे मामलों में फसाद की जड़ होती है। इसे रोकने के लिए आवश्यक है कि एक दिन पहले ही जनपद में इंटरनेट सेवाओं को बन्द करा दिया जाये। इसके अलावा उन्होंने कहा कि सभी संगठनों के आग्रह की है कि सोशल मीडिया से दूर रहने के लिए प्रेरित करें और गांव गांव व शहर से पांच से दस लोगों की कमेटी बनाकर उनको जिम्मेदारी सौंपी जाये। वार्ड 28 के सभासद नदीम खान ने कहा कि साल 2013 में दंगों की प्रमुख वजह शराब भी बनी थी। ऐसे में यह जरूरी है कि जनपद में एक दिन पूर्व ही शराब के ठेकों को बन्द कराने के लिए गांव गांव अवैध शराब की बिक्री को रोकने का काम किया जाये।

epmty
epmty
Top