यातायात कानूनों का पालन कराने को एक्शन में एसपी ट्रैफिक एपी वर्मा

यातायात कानूनों का पालन कराने को एक्शन में एसपी ट्रैफिक एपी वर्मा

सिपाही का काटा 5800 रूपये का चालान

गोरखपुर। अब वो पुराने दिन लद गये, जब लोग कानून का पालन कराने वाली पुलिस पर खुद कानून तोड़ने का आरोप लगाते थे और कहते थे कि पुलिस खुद तो कानून तोड़ती है और उसका कुछ नहीं बिगड़ता। मुख्यमंत्री के गृह जनपद में यातायात को दुरूस्त करने का जिम्मा सम्भाल रहे एसपी ट्रैफिक ने इस मिथक को झुठला दिया है। पुलिस अधीक्षक यातायात आदित्य प्रकाश वर्मा और उनकी टीम ने गणेश चैराहा पर वाहन चेकिंग अभियान चला चला कर हेलमेट व ड्राइविंग लाइसेंस आरसी चेक कर किसी को नहीं बक्शा। उन्होंने आने-जाने वाले सभी गाड़ियों को चेक किया और जिनके पास हेलमेट नहीं था, उसका बिना किसी लाग-लपेट के चालान काट दिया। ट्रैफिक पुलिस की इस कार्यवाही की जद में एक पुलिसवाला भी आ गया। हुआ यूं कि जिस समय एसपी यातायात एपी वर्मा अपनी टीम के साथ यातायात नियमों का पालन नहीं करने वालों का चालान काट रहे थे, उसी समय एक सिपाही बिना हेलमेट लगाये ही बाईक पर आता दिखायी दिया। पुलिस अधीक्षक यातायात ने उसे भी नहीं बख्शा और बिना इंश्योरेंस, हेलमेट व ड्राइविंग लाइसेंस के गाड़ी चलाने पर उक्त सिपाही का 5800 का चालान काट दिया। एसपी ट्रैफिक की इस कार्यवाही का आमजन ने जहां स्वागत किया है, वहीं पुलिस विभाग में भी उसका स्पष्ट संदेश वायरल हुआ है कि चाहे पुलिसकर्मी हों या कोई और कानून सबके लिए बराबर है और जो कानून का पालन नहीं करेगा उसका चालान हो जाएगा।


धूप में ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों को एसपी ट्रैफिक ने बांटे छाते

बता दें कि एसपी ट्रैफिक आदित्य प्रकाश वर्मा अपनी विशिष्ट कार्यशैली के बल पर हमेशा सुर्खियां बटोर ही लेते हैं। सीएम के गृहनगर में ट्रैफिक की दशा व दिशा सुधारने के लिए विभिन्न चैराहों पर तैनात ट्रैफिक पुलिस व होमगार्ड के जवानों को धूप से बचने के लिए यातायात पुलिस के जिला मुखिया एपी वर्मा ने मानवता व संवेदनशीलता का परिचय देते हुए छाता मुहैया कराया। चिलचिलाती धूप और गला देने वाली उमस में जिस किसी ने भी पुलिस अधीक्षक यातायात आदित्य प्रकाश वर्मा का यह रूप देखा तो वे खुद को वाह-वाह कहने से नहीं रोक सके।





शराब पीकर गाडी चलाने वालों को दी चेतावनी

पुलिस अधीक्षक यातायात आदित्य प्रकाश वर्मा का स्पष्ट मानना है कि शराब सभी बुराईयों की जननी तो है ही, लेकिन शराब पीकर गाड़ी चलाना कानूनी जुर्म भी है। शराब पीकर गाड़ी चलाने से कानून का तो उलंघन होता ही है, साथ ही इससे बस में बैठे और राह पर चलते राहगीरों की जान को भी खतरा बना रहता है। इसी के मद्देनजर एसपी ट्रैफिक एपी वर्मा ने अपनी टीम के साथ रोडबसों का निरीक्षण किया और यह भी सुनिश्चित किया कि बस का कोई चालक शराब पीकर तो गाडी नहीं चला रहा है। उन्होंने स्पष्ट रूप से चेतावनी देते हुए कहा है कि जो भी चालक शराब पीकर गाडी चलाते पकडा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही की जायेगी और उनके विभाग के अधिकारियों को प्रशासनिक कार्यवाही के लिए लिखा जायेगा।

Top