Top

वसंत विहार में बुजुर्ग दंपति व नौकरानी की हत्या से सनसनी

वसंत विहार में बुजुर्ग दंपति व नौकरानी की हत्या से सनसनी

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली आजकल अपराधों की वजह से सुर्खियां बटोर रहा है। राजधानी में बढ़ते अपराध सरकारों की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं। दिल्ली निवासियों के मन में ये बात घर करने लगी है कि जब दो-दो सरकारों की नाक के नीचे अपराधी बेखौफ होकर वारदातों को अंजाम देने की जुर्रत कर रहे हैं, तो दूर-दराज के इलाकों का क्या होगा?

आज दिल्ली में फिर एक और दिल को भयभीत करने वाली वारदात सामने आयी है, जो वसंत विहार इलाके की है। एक बुजुर्ग दंपति और उनकी नौकरानी का शव उनके ही अपार्टमेंट में मिला है। बताया जा रहा है कि तीनों की हत्या गला रेत कर की गई है और ट्रिपल मर्डर से इलाके में खलबली मच गयी है। शुरुआती जांच में पुलिस ने लूटपाट की वजह से हत्या की आशंका जताई है। अभी वारदात की जांच की जा रही है।

बता दें कि माथुर दंपति वसंत विहार के वसंत अपार्टमेंट में रहते थे। उनके साथ एक नौकरानी भी रहती थी। इन तीनों को रविवार सुबह मृत अवस्था में पाया गया। इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई।

सूत्रों के अनुसार शक है कि बुजुर्ग दंपति और नौकरानी की हत्या के पीछे चोरी या लूट की आशंका है। दंपति नौकरानी के साथ यहां पर अकेले ही रहते थे। सुबह पास रहने वाले लोगों ने ही पुलिस को सूचना दी। लोगों ने बताया कि घर के बाहर भी काफी खून पड़ा है और घर के अंदर से कोई जवाब नहीं दे रहा है। पुलिस अब घर के सामान की तलाशी ले रही है साथ ही दंपति के परिवार के सदस्यों से भी संपर्क करने की कोशिश की जा रही है।

मोहन गार्डन थाना क्षेत्र में भी पति-पत्नी की हत्या का मामला सामने आया है। यहां पर अज्ञात बदमाशों ने दृष्टिबाधित टीचर और उनकी पत्नी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। वारदात के समय पति-पत्नी ही घर में थे। मृतक की पहचान हरिवल्लभ सिंह (51) व शांति देवी (47) के रूप में हुई है। हरिवल्लभ सिंह कंझावला स्थित विद्यालय में संगीत के शिक्षक थे। पुलिस का कहना है कि घटनास्थल से मिले साक्ष्य इशारा कर रहे हैं कि वारदात को जिन बदमाशों ने अंजाम दिया है वे हरिवल्लभ के जानकार थे। पुलिस को अभी तक घर से लूटपाट के कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं।

पुलिस के अनुसार जिस कमरे में पति-पत्नी का शव मिला है, वहां रखे टेबल पर तीन ग्लास मिले। तीनों ग्लास में पानी भरा था। इससे इस बात की आशंका है कि आरोपितों की संख्या तीन थी। वे परिवार के जानकार थे। पुलिस के अनुसार दोनों की गर्दन पर चाकू के कई वार के निशान मिले हैं। पुलिस के अनुसार जहां वारदात को अंजाम दिया गया वहां दीवारों पर खून के कई निशान हैं। इससे प्रतीत होता है कि इन्होंने बदमाशों का काफी विरोध किया होगा। खून से सने हाथ के निशान भी पुलिस को कई जगह मिले हैं।

epmty
epmty
Top