Top

पुलिस को झूठी खबर देने वालो की अब खैर नहीं, भेजा जायेगा जेलःएसएसपी

पुलिस को झूठी खबर देने वालो की अब खैर नहीं, भेजा जायेगा जेलःएसएसपी

मुजफ्फरनगर। अब झूठी सूचना देकर विरोधियों को फंसाने के लिए पुलिस को हथियार बनाने वाले शातिरों के लिए बुरी खबर है। ऐसे लोगों को एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने चेतावनी दी है कि पुलिस को झूठी सूचना देकर गुमराह करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। ऐसे लोगों को सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कराकर निस्द्ध किया जायेगा।

प्रेस वार्ता में एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि जिले में हो रही हत्या लूट चोरी जैसी घटनाओं की झूठी पुलिस को सूचना देने वालो के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही अमल में लाएं जाएगी ओर जो लोग झूठी सूचना देकर मोबाईल बन्द कर लेते हैं उनके खिलाफ भी मुकदमा लिखकर जेल भेजेगें।

पुलिस अधीक्षक नगर सतपाल आंतिल ने बताया कि हंड्रेड डायल को फोन करके सूचना दी कि मुझ को अंकुर पुत्र विनोद निवासी बच्चन सिंह कॉलोनी थाना नई मंडी को किसी अज्ञात ने गोली मार दी जिस पर डायल हंड्रेड वह थाना नई मंडी प्रभारी संतोष कुमार सिंह वे उप निरीक्षक सर्वेश शर्मा हेड कॉस्टेबल कौशल कॉस्टेबल मनोज मौके वारदात पर पहुंचे और तुरंत घायल को जिला अस्पताल पहुंचाया ओर डॉक्टरी कराई जिसपर थानाप्रभारी सन्तोष कुमार सिंह को संदेह हुआ और थानाप्रभारी सन्तोष कुमार सिंह ने एस आई सर्वेश शर्मा व उनकी टीम को इस गोली कांड की जांच में लगाया तो इस मामलां कुछ और ही सामने आया। अंकुर पुत्र विनोद निवासी बच्चन सिंह कॉलोनी ने मनगढ़त कहानी रचकर अपने ऊपर खुद गोली चलाई थी। अंकुर की मंशा प्रेम प्रसंग में फेल होने पर लड़की के परिवार वालो को फंसाने का षडयंत्र रचकर उनपर दबाव बनाने की थी, लेकिन थानाप्रभारी संतोष कुमार सिंह व एस आई सर्वेश शर्मा की पैनी नजर से बच नही पाया और दूध का दूध और पानी का पानी हो गया। अंकुर के खिलाफ पूर्व में भी एक दर्जन मुकदमे दर्ज बताये जा रहें है। उसके हिस्ट्रीशीटर होने की बात भी सामने आयी हैं। पकड़े गए शातिर अंकुर से एक तमंचा 32 बोर मेयर खोखा कारतूस 32 बोर भी बरामद किया गया है।

शातिर को बेनकाब करने मे त्वरित गति से मामले का खुलासा करके अपराधी को उसके मंसूबों में फेल करने के लिए एसएसपी ने थानाप्रभारी सन्तोष कुमार सिंह व एस आई सर्वेश कुमार, हेड कोस्टेबल कौशल व कोस्टेबल मनोज की पीठ थपथपाई है

epmty
epmty
Top