Top

समझौते करने से इंकार करने पर विरोधियों को फंसाने के लिए अपने ही पुत्र के हाथ मार दी गोली

समझौते करने से इंकार करने पर विरोधियों को फंसाने के लिए अपने ही पुत्र के हाथ मार दी गोली

मुजफ्फरनगर। अपने ही पुत्र को गोलेी मारकर दूसरो का फंसाने का षड़यंत्र करने वाले शातिर का पुलिस सर्तकता के चलते भंडा फूट गया। जिसका खुलासा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने पत्रकार वार्ता में किया।

पुलिस लाईन में आयोजित पत्रकार वार्ता में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने संबोधित करते हुए बताया कि थाना छपार निवासी तेजलहेडा वादी यशपाल ने अपने ही गांव के धीर सिंह पुत्र समय सिंह, अंकुर, अभिषेक उर्फ अंकित के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया था। जो न्यायालय में विचाराधीन है इस मुकदमें में मुल्जिम पक्ष ने वादी पक्ष से समझौते का प्रयास किया था, किन्तु वादी पक्ष ने समझौते करने से इंकार कर दिया था।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि थाना छपार के क्षेत्रान्तर्गत गांव तेजलहेडा निवासी अभिषेक उर्फ अंकित ने अपने आप को गोली मार ली, जिसमें वादी पक्ष को फंसाने की कोशिश की। छपार थानाध्यक्ष एच एन सिंह ने अपनी टीम का गठन कर अभियुक्त धीर सिंह पुत्र समय सिंह निवासी तेजलहेडा थाना छपार जनपद मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया गया। पुलिस ने अभियुक्त से पूछताछ की तो अभियुक्त ने बताया कि वादी पक्ष से उपरोक्त मुकदमें में समझौते न होने के कारण धीर सिंह व इनके पुत्र अभिषेक उर्फ अंकित ने उपरोक्त मुकदमें के मजरूव सतीश व इसके बेटे गौरव को झूठा फंसाने व अपना दबाव बनाने के लिए 14 जून दोपहर 12 बजे धीर सिंह ने अपने ही पुत्र के दाहिने हाथ में तमन्चे से गोली मारकर घायल कर स्वंय ही 100 नंबर पर सूचना दी। थानाध्यक्ष छपार व फिल्ड यूनिट ने मौके पर इस घटना को गहनता से जांच करने पर यह तथ्य पाये गये कि धीर सिंह व इसके बेटे अभिषेक उर्फ अंकित ने स्वंय गांव तेेजलहेडा के कुछ व्यक्तियों के सामने यह बात कही थी, कि यदि वादी पक्ष सतीश फैसला नही करते है तो उनके लिये कोई झूठा आरोप लगाकर इनको फंसा दूंगा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जांच से घटना का मनगंढत पाया गया। पुलिस द्वारा घटना स्थल से 12 बोर के छर्रो को बरामद करते हुए अभियुक्त धीर सिंह निवासी तेजलहेडा को गिरफ्तार कर इसके कब्जे से 02 जिन्दा कारतूस 12 बोर के बरामद किये गये है। इस घटना के सम्बध में थाना छपार अभियुक्त धीर सिंह व इसके पुत्र अभिषेक उर्फ अंकित के विरूद्ध पंजीकृत किये गये है। अभियुक्त अंकित को राजकीय जिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर में उपचार हेतु भर्ती कराया गया है।

epmty
epmty
Top