Top

अनंन्तदेव की टीम का बदमाशो के खिलाफ bullet का इस्तेमाल जारी, एनकॉउंटर में पीपी सिंह अव्वल

अनंन्तदेव की टीम का बदमाशो के खिलाफ bullet का इस्तेमाल जारी, एनकॉउंटर में पीपी सिंह अव्वल

मुज़फ्फरनगर। मुज़फ्फरनगर के एसएसपी अनंतदेव की टीम लगातार बदमाशो के पीछे लगी हुई है तभी तो आज तडके खतौली कोतवाल पीपी सिंह और उनकी टीम ने थाना इलाके के बाईपास पर दिन निकलते के साथ बदमाशो के साथ मुठभेड़ हो गयी मुठभेड़ में खतौली पुलिस ने 20000 के इनामी नावेद व आबाद को गोली लगी अवस्था में तथा आसिफ,रहमान व 20000 के इनामी दानिश को गिरफ्तार कर लिया ,बदमाशो के कब्जे से पुलिस ने एक स्विफ्ट कार दो देशी तमंचे भारी मात्रा में कारतूस किए बरामद किये है यह बदमाश शाहपुर तथा अन्य जगहों पर डकैती की वारदात कर चुके है तथा पुलिस इनकी सरगर्मी से तलाश कर रही थी

क्राइम कैपिटल में अनंतदेव ने किया पुलिस का इकबाल बुलंद

मुज़फ्फरनगर, इस जनपद को क्राइम कैपिटल कहा जाता है यहां के अपराधी पूरे देश मे घटनाओ को अंजाम देकर मुज़फ्फरनगर को मशहूर करने में कोई कसर नही छोड़ना चाहते है लेकिन एनकॉउंटर स्पेस्लिस्ट कहे जाने वाले अनंन्तदेव ने यहां के कप्तान का चार्ज संभाला तो जैसे बदमाशो की शामत आ गयी एसएन सावंत , आशुतोष पांडये ओर नवनीत सिकेरा के बाद इस जनपद में पुलिस ने बदमाशों का एनकॉउंटर करना क्या बंद किया बदमाश पुलिस और पब्लिक पर हावी होने लगे थे । जरायम बढ़ रहा था ऐसे में पहले यूपी का निज़ाम बदल ओर फिर पुलिस के बड़े अफसरों में भी बदलाव हुआ एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर बने आनंद कुमार और मुज़फ्फरनगर के कप्तान की कमान मिली बीहड़ के जंगलों में कुख्यातों का खात्मा करने वाले अनंन्तदेव तिवारी को । कुछ दिन तो अनंन्तदेव रमज़ान, ईद फिर कांवड़ के पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने में लगे रहे जैसे ही अनंतदेव फ्री हुए ऐसे ही बदमाशो पर पुलिस का इक़बाल बुलंद होने लगा और ताबड़तोड़ एनकॉउंटर में अब तक चार बदमाश ढेर तो दर्जनों अपराधी पुलिस की गोली से मुठभेड़ में घायल होकर जेल की सलाखों के पीछे चले गए है पुलिस की दहशत का नतीजा है कि सीकरी का एक हत्यारा बुर्के को पहनकर अदालत में हाजिर हो गया है

अपने वादे के पक्के है अनंन्तदेव

जनपद में लगातार कई डकैती की घटनाएं हुई तो पुलिस पर सवाल भी उठने लगे लेकिन इन सब से बेखबर अनंन्तदेव की टीम अपने मिशन में लगी रही पिछले दिनों शाहपुर कस्बे में डॉ जुनैद के यहां डकैती की घटना हुई तो डॉ जुनैद एसएसपी अनंन्तदेव से मिले कप्तान ने उन्हें भरोसा दिया कि आपकी घटना को सही वर्कआउट किया जाएगा और बदमाशो को इसकी सजा दी जाएगी,डॉ जुनैद को कप्तान की बात पर भरोसा हुआ। 50 हजारी फुरकान के एनकाउन्टर के बाद दो उसके दो साथी पकड़े भी गए थे जिन्होने इस घटना में अपने अन्य साथियों के नाम भी बताए थे जिनके पीछे अनंन्तदेव की टीम लग गयी थी और आज उस डकैती को अंजाम देने वाले पांच कुख्यात डकैत आज खतौली में पीपी सिंह की टीम से उलझ गए नतीजा पुलिस की bullet से घायल होकर अस्पताल रवाना हो गए है

एनकाउंटर में पुलिस लगा चुकी है चौका

भाजपा सरकार बनने के बाद से पुलिस ने बदमाशो के खिलाफ सख्ती से काम करना शुरू किया तो एडीजीपी कानून एंव व्यवस्था का चार्ज सँभालने के बाद आनंद कुमार ने भी पुलिस को बदमाशो पर टूट पड़ने का फरमान जारी किया, फिर क्या था मुज़फ्फरनगर में तैनात एनकाउंटर स्पेशलिस्ट कहे जाने वाले आईपीएस अफसर अनंतदेव ने भी क्राइम कपिटल से मशहूर मुज़फ्फरनगर के अपराधियों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया । पुलिस बदमाशो के पीछे लग गयी और इसकी शुरुआत की जानसठ के सीओ एसकेएस प्रताप ओर मीरापुर इंस्पेक्टर अरविन्द कुमार ने, इन्होने 50 हजार के इनामी नितिन को मुठभेड़ में मार गिराया, इसके बाद ककरोली के तत्कालीन थाना प्रभारी वर्तमान में जानसठ कोतवाल अनिल कुमार ने इनामी बदमाश नदीम को एनकाउंटर में ढेर कर दिया । अब नंबर था लगातार एनकाउंटर में बदमाशो को अस्पताल के रास्ते बडे घर भेजने में जुटे खतौली के कोतवाल पीपी सिंह का , उन्होंने कुख्यात बदमाश मुकीम काला के भाई 25 हजार के इनामी वसीम को मुठभेड़ में मार गिराया। लगातार तीन एनकाउंटर से मुज़फ्फरनगर के बदमाशो में हडकंप मच गया फिर बुढ़ाना कोतवाल चमन सिंह चावड़ा और वर्तमान में छपार के थानाध्यक्ष आदेश त्यागी की टीम ने फुरकान को यमलोक का रास्ता दिखाकर अपने कप्तान अनंतदेव का मुज़फ्फरनगर में एनकाउंटर का चौका लगा दिया था ।








epmty
epmty
Top