कप्तान अभिषेक यादव की चेतावनी- व्हाईट लाइन से हटे तो कटेगा वाहन का चालान

कप्तान अभिषेक यादव की चेतावनी- व्हाईट लाइन से हटे तो कटेगा वाहन का चालानMuzaffarNagar SSP Abhishek Yadav

मुजफ्फरनगर जनपद में नये बदलाव के लिए अपनी अलग पहचान बना चुके एसएसपी अभिषेक यादव ने अब शहर को जाम मुक्त बनाने की कवायद की है। इसके लिए पहले भी वह रोडवेज बसों को शहर से दूर करने का काम कर चुके हैं, लेकिन अब वह शहर में लोगों को यातायात नियमों का पालन कराना भी सिखायेंगे। इसके लिए उनका 'व्हाइट लाइन' अभियान शुरू हो चुका है। इसके सहारे शहर की सड़कों पर बेतरतीब और मनमर्जी पार्किंग करने वाले वाहनों के मालिकों को एसएसपी अभिषेक यादव फाइन के सहारे लाइन में रहने का पाठ पढ़ाने जा रहे हैं। इस लाइन से चूके कि पुलिस की पाठशाला में हाजिरी देनी पड़ जायेगी। वाहन जब्त होगा और जुर्माना भी लगेगा। इस कार्यवाही से बचने के लिए शहर के लोगों को अब एसएसपी अभिषेक यादव की इस लक्ष्मण रेखा 'व्हाइट लाइन' का प्रयोग अवश्य करना होगा।





मुजफ्फरनगर एसएसपी अभिषेक यादव की बेहतर पुलिसिंग


बता दें कि दो दिसम्बर को मुजफ्फरनगर में अपने पांच माह का कार्यकाल पूर्ण करने जा रहे आईपीएस अभिषेक यादव ने इस जनपद में बेहतर पुलिसिंग करके दिखायी है। उन्होंने जहां आतंक का पर्याय बन रहे ढाई लाख के ईनामी बदमाश रोहित सांडू को उसके गैंग के कुख्यात बदमाशों के साथ ही मुठभेड़ में ढेर करने का काम किया, वहीं जनता की समस्याओं को लेकर भी उत्कृष्ट कार्यशैली का प्रदर्शन करने से वह पीछे नहीं हटे। दो जुलाई को जनपद में नये कप्तान के रूप में चार्ज संभालने के बाद से ही वह जनसरोकारों को लेकर चिंतित नजर आये। उन्होंने शहरी यातायात व्यवस्था को लेकर शुरूआत से ही काम किया। शहर में जाम और भयंकर हादसों का कारण बन रही बसों की नो एंट्री की योजना को एसएसपी अभिषेक यादव ने सख्ती से लागू कराने का काम किया और दिन के उजाले में शहरी क्षेत्र को बसों की भागदौड़ से मुक्त करने का काम किया। इसमें रोडवेज बसें भी शामिल रहीं हैं। इससे शहरी यातायात में आमूलचूल परिवर्तन भी देखने को मिला। इस व्यवस्था को लगातार माॅनीटर किया जा रहा है, इसके साथ ही अब उन्होंने शहरी यातायात व्यवस्था को पूरी तरह से चाक चैबंद बनाने के लिए शहर में ठेला और वाहन खड़ा करने पर कुछ शर्ते लागू की हैं। वाहन स्वामियों और चालकों के साथ ही सड़क पर ठेला लगाकर फुटपाथ व्यापारियों की भांति कारोबार करने वालों के लिए एक 'लक्ष्मण रेखा' तय कर दी है। इसका उल्लंघन करने पर वाहन स्वामी और वाहन चालक पुलिस के निशाने पर आ जायेंगे। उनको कई प्रकार की मुश्किलों के साथ ही भारी जुर्माने का सामना भी करना पड़ सकता है। एसएसपी ने शहर में 'व्हाइट लाइन' अभियान शुरू किया है। यह अभियान यातायात पुलिस के अधीन चलाया जायेगा, लेकिन इसमें पूरा पुलिस फोर्स शामिल रखा गया है। शहरी सड़कों पर वाहनों के साथ ही ठेला आदि खड़ा करने के लिए एक व्हाइट लाइन खींची जा रही है। इस लाइन का उल्लंघन करना ही किसी भी व्यक्ति के लिए परेशानी खड़ी कर सकता है। एसएसपी अभिषेक यादव शहरी यातायात को दुरुस्त करने के लिए शुरू किये गये अपने इस 'व्हाइट लाइन' अभियान के बारे में कहते हैं कि आप सभी जानते हैं कि यदि कोई वाहन और ठेला आदि सड़क पर गलत तरीके से खड़ा किया जाता है, तो उससे जाम की स्थिति उत्पन्न होती है। ऐसी स्थिति में कई चुनौती हमारे सामने उभरती हैं, उससे आम आदमी को असुविधा होती है तथा दुर्घटना घटित होने की भी पूरी सम्भावना बनी रहती है। इससे यातायात नियमों का उल्लंघन भी होता है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए शहर में यह 'व्हाइट लाइन' अभियान चलाया गया है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के लिए लोगों को जागरुक भी किया जा रहा है, ताकि वह नियमों का पालन करें और उल्लंघन के लिए होने वाली कार्यवाही से बचकर अनावश्यक परेशानी मौल ना लें।





एसएसपी अभिषेक यादव का यातायात अभियान


यातायात पुलिस एसएसपी अभिषेक यादव के इस अभियान के लिए प्रचार के साथ ही कार्यवाही में भी जुटी हुई है। यातायात पुलिस की ओर से एसएसपी अभिषेक यादव का संदेश जन जन तक पहुंचाने के लिए सभी जनपदवासियों कोे सूचित किया है कि अपने वाहनों को बाजार में निकले के बाद सड़क के किनारे बनी सफेद रंग की सांकेतिक पट्टी के दायरे के बाहर एवं उचित स्थान पर ही खड़ा करें। सड़क के किनारे बनी सफेद पट्टी के अन्दर वाहन खड़ा पाये जाने पर मोटर वाहन अधिनियम की धारा 122, 126, 177 व पुलिस अधिनियम की धारा 34 के अन्तर्गत चालान करने के साथ ही व्हाइट लाइन के अन्दर खड़े वाहन को क्रेन द्वारा उठाकर यातायात लाइन में निरूद्ध कर दिया जायेगा। वाहन के सम्पूर्ण व वैध कागजात प्रस्तुत करने पर भी ''गलत स्थान पर पार्किंग'' का जुर्माना व ''ढुलाई चार्ज'' अदा करने के बाद ही जब्त किये गये वाहन को यातायात पुलिस लाइन से अवमुक्त किया जाएगा। एसएसपी के इस अभियान के लिए प्रचार के साथ ही संदेश देने के लिए यातायात पुलिस ने शहर की सड़कों पर व्हाइट लाइन का उल्लंघन कर खड़ी की गयी कई कार को क्रेन के माध्यम से बाजार से उठवाकर यातायात लाइन में भिजवाया, जिन पर भारी जुर्माना किया गया। इससे लोगों में हलचल मची है।





एसएसपी अभिषेक यादव 'जीरो ड्रग्स' अभियान लगातार प्रशंसा बटोर रहा है


बता दें कि एसएसपी अभिषेक यादव का जनपद को नशा मुक्त बनाने के लिए शुरू किया गया 'जीरो ड्रग्स' अभियान लगातार प्रशंसा बटोर रहा है, इस अभियान को लेकर पुलिस जनपद में निरंतर नशे का अवैध कारोबार करने वालों पर शिकंजा कस रही है। वहीं अब शहर को जाम मुक्त बनाने के लिए पुलिस कप्तान ने यह कमाल का अभियान चलाकर एक नई शुरूआत की है।

सेहत

Top