Top

24 घंटे में एसओ जसवीर ने कर दिया क़त्ल का खुलासा

24 घंटे में एसओ जसवीर ने कर दिया क़त्ल का खुलासा


बिजनोर : पुलिस कप्तान अतुल शर्मा के निर्देशन में पुलिस लगातार गुडवर्क कर रही है। स्योहारा के ज्योति हत्याकांड का खुलासा कर उन्होंने साबित कर दिया था कि वो निष्पक्ष ओर तत्काल प्रभावी कार्यवाही के पक्षधर है। दो दिन पहले मंडावर के कालीमाता के मंदिर के पुजारी बाबा गणेश गिरी की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी थी इस संबंध में वीरेंद्र राजपूत की तरफ से अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया । इस हत्या कांड के बाद पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने थानाध्यक्ष मंडावर जसवीर सिंह को तत्काल इस घटना का खुलासा करने को कहा। मंडावर में पोस्टिंग के बाद से लगातार गुडवर्क कर रहे एसओ जसवीर ने अपने कप्तान के हुक्म की तामील की ओर 24 घंटे के अंदर ही इस ब्लाइंड मर्डर को वर्कआउट कर दिया। जसवीर ने असली हत्यारे महेश पुत्र रूपचन्द्र व मांगेराम पुत्र घसीटा निवासीगण कमालपुर थाना मण्डावर, बिजनौर को गिरफ्तार कर लिया पूछताछ में खुलासा हुआ कि अभियुक्त महेश द्वारा बाबा गणेश गिरी को वर्ष 2006 में माता काली के मन्दिर में पुजारी के रूप में रखा था तथा मन्दिर को जमीन भी दी थी। जमीन इस आशय से दी थी कि मन्दिर में आने वाले पुजापा का आधा हिस्सा महेश को मिलता रहेगा। लेकिन बाबा गणेश गिरी ने महेश को पुजापा कुछ दिन देने के बाद बंद कर दिया और कहा कि यह जमीन मन्दिर की है तथा मेरे नाम है इसे मैं बेचुंगा। बाबा गणेश गिरी द्वारा उक्त जमीन पर खडे कुछ पेड भी कटवा दिये तथा पैसे खुद रख लिये। महेश उपरोक्त ने गांव के लोगों को उकसाया कि बाबा गणेश गिरी शराबी है, नशेडी है इसे भगा दो, जब गांव की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो अपने साथी मांगेराम के साथ मिलकर दिनांक 15.09.2017 की रात्रि को मन्दिर में बाबा गणेश गिरी पर पाठल से हमला कर हत्या कर दी।
जसवीर सिंह के इस गुडवर्क पर कप्तान अतुल शर्मा ने उन्हें इनाम देने की घोषणा की है
लगातार गुडवर्क कर रहे है जसवीर सिंह
दरोगा शहरोज मलिक की हत्या के बाद से मंडावर थाना इलाके में पुलिस का थोड़ा सा इक़बाल कमजोर हुआ लेकिन कप्तान अतुल शर्मा ने जसवीर सिंह को मंडावर थाने की कमान सौंपी दी फिर क्या था जसवीर ने चार्ज संभालने के बाद से अपने।कप्तान के भरोसे पर खरा उतरने के लिए मेहनत शुरू कर दी जिसका नतीजा आया जब नहटौर के हिस्ट्रीशीटर बदमाश 15 हजार के इनामी आफताब का मुकाबला जसवीर सिंह और उनकी टीम से हुआ तो जसवीर सिंह ने बहादुरी के साथ उसके शरीर पर bullet से वार किया उसकी किस्मत अच्छी थी वो बच गया लेकिन जसवीर सिंह इस एनकाउन्टर में घायल हो गए । इसके बाद भी जसवीर सिंह ने अस्पताल से छुट्टी लेकर मजबूत पुलिसिंग के लिए इलाके में गश्त करना शुरू कर दिया इसी बीच 14 सितम्बर को जसवीर सिंह का मुकाबला फिर एक मुज़फ्फरनगर के 12 हजारी इनामी बदमाश जीत सिंह उर्फ जीता से हुआ लेकिन इस बार फिर बदमाश पुलिस की गोली से घायल होकर जेल की सलाखों के पीछे चला गया

epmty
epmty
Top