Top

कप्तान अजय की टीम ने किया डकैती का माल खरीदने वाले गिरोह का खुलासा

कप्तान अजय की टीम ने किया डकैती का माल खरीदने वाले गिरोह का खुलासा

शामली। अपने कप्तान अजय कुमार के नेतृत्व में चौकस और चौकन्नी रहने वाली शामली पुलिस ने बावरियों गिरोह से साठगांठ रखने वाले सर्राफ कारोबारी और उसके गिरोह का भंडाफोड़ करने का काम किया है। इसमें सर्राफ कारोबारी का दामाद अपने दो साथियों के साथ लूट, चोरी और डकैती में हथियाया गया माॅल ठिकाने लगाने के लिए ले जाते हुए पकड़े गये।

एसपी अजय कुमार के चक्रव्यूह के तहत चैकिंग के लिए रोकी गयी एक गाड़ी से भारी मात्रा में सोने चांदी के जेवरात और नकदी बरामद होने पर हड़कम्प मच गया। झिंझाना पुलिस को मिली इस सफलता ने चोरी के गहनों के कारोबार करने के पूरे गिरोह का भंडाफोड़ कर दिया। इस सफलता से प्रसन्न पुलिस कप्तान ने झिंझाना पुलिस टीम की पीठ थपथपाकर शाबासी दी। कार से बरामद जेवरात की कीमत 71 लाख रुपये बतायी गयी है। पुलिस ने कार व जेवरात सहित शामली के एक व्यापारी दामाद व उसके दो साथियों को पकड़ा है।

शामली एसपी अजय कुमार द्वारा अपराध और अपराधियों के सफाये को लेकर चलाये जा रहे अभियान में एक बड़ी सफलता मिली है। जिले के झिंझाना थाना पुलिस ने 71 लाख कीमत के सोना चांदी के जेवरात समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर चोरी के जेवरातों के गोरखधंधे का बड़ा खुलासा किया है। थाना झिंझाना में पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने इस कामयाबी का जश्न पूरी टीम के साथ मनाया। वहां पर मीडिया के सामने उन्होंने इस प्रकरण का खुलासा करते हुए बताया कि ग्राम जमालपुर भट्टे के पास कैराना रोड पर झिंझाना पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक सेंट्रो कार और अपाचे पकड़ी। पुलिस ने जब कार चालक से पूछताछ की तो उसकी बातों से वह संदिग्ध प्रतीत हुआ। पुलिस ने कार की तलाशी शुरू की तो सेंट्रो कार के अंदर से भारी मात्रा में बैग बरामद हुए। बैगों को खोल कर देखा गया तो अंदर करीब 60 लाख की कीमत का सोना और करीब 11 लाख कीमत की चांदी बरामद हुई। अभियुक्त दीपक कुमार गर्ग पुत्र राजकुमार निवासी सिसौली, नसीम पुत्र हनीफ निवासी कैराना और नितिन पुत्र देवेंद्र उपाध्याय ग्राम सिसौली को मौके से पकड़ा गया। पूछताछ में इन आरोपियों ने बरामद हुए सोने व चांदी के सभी आभूषण दीपक के ससुर राजपाल गोयल पुत्र मिट्ठन लाल के बताये। शामली का व्यापारी होने के लिए पहचान रखने वाला राजपाल गोयल उत्तर प्रदेश और हरियाणा राज्यों के विभिन्न क्षेत्रों में सक्रिय बावरियों से चोरी लूट डकैती का माल खरीदा करता है। बीते दिनों राजपाल पानीपत पुलिस ने गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया था। इसकी जांच अभी जारी थी। राजपाल की गिरफ्तारी के बाद उसके गिरोह में शामिल उसका दामाद दीपक अपने साथियों के साथ लूट, चोरी का खरीदा गया माल ठिकाने लगाने के लिए ले जा रहे, लेकिन वह एसपी शामली के आॅपरेशन चक्रव्यूह की घेराबंदी को भेदने में नाकाम साबित हुए। एसपी शामली अजय कुमार ने इंस्पेक्टर झिंझाना सुशील कुमार दूबे और उनकी टीम को इस अभूतपूर्व सफलता के लिए पीठ थपथपाकर शाबादी देने के साथ ही पूरी टीम को 25 हजार रुपये के नकद ईनाम से नवाजने का काम भी किया।

epmty
epmty
Top