Top

भोपा पुलिस का मानवीय चेहरा, वृद्धा की जान बचाई

भोपा पुलिस का मानवीय चेहरा, वृद्धा की जान बचाई

मुजफ्फरनगर। जनपद पुलिस अपने कप्तान अभिषेक यादव की अगुवाई में जहां बदमाशों को ठोकने में नम्बर वन साबित हो रही है, वहीं मानवता के कार्यों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही है। आजकल मुजफ्फरनगर पुलिस के मानवीय आचरण की भी जमकर तारीफ हो रही है। आज भोपा पुलिस ने अपने व्यवहार से अपनी जान देने पर आमादा वृद्ध महिला की न केवल जान बचाई, बल्कि उसका दिल भी जीत लिया।






ताजा मामला भोपा थाना क्षेत्र का है। आज यहां नहर के पुल पर कांस्टेबल प्रवीन ने एक वृद्धा को संदिग्ध स्थिति में देखा तो वह चौकन्ना हो गया। उसने तुरन्त ही थानाप्रभारी को इसकी सूचना दी कि नहर के पुल पर शायद एक वृद्धा नहर में कूदने का प्रयास कर रही है। सूचना मिलते ही थानाप्रभारी एमएस गिल पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और वृद्धा को अपने साथ लेकर थाने आ गये। वहां उन्होंने वृद्धा को जलपान कराने के बाद आत्मीयता से पूछा कि अम्मा आप कहां जा रही हो और कहां की रहने वाली हो। साथ ही उन्होंने नहर में कूदकर आत्महत्या करने जैसा कदम उठाने के लिए जिम्मेदार परिस्थितियों के बारे में भी पूछा। एक पुलिस अफसर का अपनापन देखकर वृद्धा की आंखों में आंसू आ गये और उसने बड़े ही रूंधे गले से आपबीती सुनाते हुए कहा कि वह भौराकला थानाक्षेत्र के गांव सिसौली की रहने वाली है और उसका नाम श्यामो है। उसने बताया कि गृहकलह से परेशान होकर आत्महत्या जैसा कदम उठाने के लिए मजबूर हुई है।



वृद्ध श्यामो की आपबीती सुनकर थानाध्यक्ष एमएस गिल ने श्यामों के परिजनों को थाने बुलवाया और उन्हें वृद्धों का सम्मान करने की नसीहत देते हुए वृद्ध श्यामों को समझाबुझाकर परिजनों के साथ भेज दिया, साथ ही भविष्य में ऐसा कदम नहीं उठाने की सलाह भी थी। पुलिस के इस मानवीय कृत्य की बात जिसने भी सुनी वह पुलिस की मानवीयता का कायल हो गया। आज पूरे क्षेत्र में पुलिस के इस काम की चर्चा होती रही।

epmty
epmty
Top