Top

एसएसपी बुलन्दशहर एन कोलांची तात्कालिक प्रभाव से निलम्बित

एसएसपी बुलन्दशहर एन कोलांची तात्कालिक प्रभाव से निलम्बित

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने प्रदेश के जनपदो की कानून एवं व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करते हुए लापरवाही बरतने अथवा अनियमितता पाये जाने पर सख्त रूख अपनाते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, बुलन्दशहर एन कोलांची को तात्कालिक प्रभाव से निलम्बित किये जाने के निर्देश दिये है।


योगी आदित्य नाथ ने गृह एवं पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियो को यह भी निर्देर्शित किया है कि थानाध्यक्षों की तैनाती की प्रक्रिया का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय तथा इसकी समीक्षा भी सुनिश्चित की जाय।
अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस महानिदेशक, ओपी सिंह की रिपोर्ट के आधार पर जनपद बुलन्दशहर के कानून व्यवस्था एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बुलन्दशहर एन कोलांची की कार्यप्रणाली की समीक्षा किये जाने पर पाया गया कि कोलांची द्वारा थानाध्यक्षों एवं प्रभारी निरीक्षकों के पद पर तैनाती में अनियमितता की जा रही है। उनके द्वारा इस सम्बन्ध में निर्धारित प्रक्रिया का अनुपालन न करके मनमाने पूर्ण तरीके से निरीक्षक/थानाध्यक्षों की नियुक्ति की गयी एवं थानाध्यक्षों को बहुत ही कम अवधि मे स्थानान्तरित कर दिया गया।


उदाहरण के तौर पर दो थानाध्यक्षों को सात दिन से कम तैनाती दी गयी, एक थानाध्यक्ष को मात्र 33 दिन में बदल दिया गया, जो पुलिस महानिदेशक द्वारा निर्धारित प्रक्रिया के बिल्कुल विपरीत है। श्री कोलांची द्वारा दो थानाध्यक्षो को, जिनको परिनिन्दा प्रविष्टि दी गयी है, को भी नियमों के विपरीत तैनात किया गया। उक्त कार्यप्रणाली से पुलिंसिग की महत्वपूर्ण कड़ी (थाना प्रभारी ) के स्थायित्व में कमी आयी है तथा इस प्रकार नियुक्त प्रक्रिया पारदर्शी नही थी।


एन कोलांची वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के इस कृत्य से आम जनमानस मे पुलिस विभाग की छवि धूमिल हुई है। शासन द्वारा तात्कालिक प्रभाव से उनको निलम्बित कर पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से सम्बद्व किये जाने के निर्देश दिये गये है।

epmty
epmty
Top