Top

डीजीपी ने किया शामली के एसपी का सम्मान

डीजीपी ने किया शामली के एसपी का सम्मान

शामली। कभी संवेदनहीन समझी जाने वाली यूपी पुलिस में संवेदनशीलता का नया अध्याय आरम्भ हुआ है, जिसके तहत प्रदेश के पुलिस मुखिया ओमप्रकाश सिंह द्वारा अच्छा काम करने वालों को प्रोत्साहन देने की परम्परा को बेहद सराहना मिल रही है। जानकारों की मानें तो इससे न केवल सराहना प्राप्त करने वाले अफसर, बल्कि अन्य अफसरों को भी अच्छा कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी और इसके अच्छे परिणाम निकलेंगे।

ज्ञात हो कि प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह ने जनपद शामली के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार को उनके द्वारा किये गये सराहनीय कार्यो के लिए प्रशस्तिपत्र प्रदान किया है। यूपी पुलिस के मुखिया ओपी सिंह ने पुलिस अधीक्षक शामली अजय कुमार द्वारा किये गये हालिया लोकसभा चुनाव को भयमुक्त, हिंसा रहित, शान्तिपूर्वक व निष्पक्ष रूप से सम्पन्न कराने सहित चुनाव के दौरान अतिविशिष्ट एव विशिष्ट महानुभावांे को कुशलतापूर्वक क्षेत्र में भ्रमण कार्यक्रमों को कुशलतापूर्वक सम्पन्न कराने के लिए मुक्तकंठ से सराहना की है। प्रदेश पुलिस मुखिया का कहना है कि हालांकि लोकसभा चुनाव को सम्पन्न कराने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस, पीएसी, होमगार्ड्स, पीआरडी, ग्राम चैकीदार, केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल सहित विभिन्न राज्यों के सशस्त्र बलों को मतदेय स्थलों व मतदान केन्द्रों की सुरक्षा, कानून व्यवस्था, ईवीएम स्ट्रांगरूम की सुरक्षा, मतगणना ड्यूटी सहित अन्य सुरक्षा सम्बन्धी महत्वपूर्ण कार्यों को सम्पन्न कराने के लिए नियुक्त किया गया था। डीजीपी का मानना है कि शामली में उपलब्ध संसाधनों के दृष्टिगत इतने वृहद बल का व्यवस्थापन, आवासीय व अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराना बेहद श्रमसाध्य कार्य था, लेकिन पुलिस अधीक्षक अजय कुमार द्वारा इन सभी बेहद कठिन कार्यों को अपनी अप्रतिम नेतृत्व क्षमता का प्रदर्शन करते हुए उच्च कोटि का पुलिस प्रबन्धन किया था, जिसके चलते लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 निर्बाध रूप से सकुशल एवं त्रुटिरहित सम्पन्न हो पायी है। इसके लिए पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह की ओर से अभेद्य एवं अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था, पुलिस प्रबन्धन एवं अन्य राजकीय विभागों के साथ किये गये प्रभावशाली समन्वय के लिए शामली के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार की प्रशन्सा की गयी है।



बता दें कि लोकसभा चुनाव से पूर्व ही अजय कुमार ने एक हथियार बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड किया था। पुलिस ने अवैध हथियार बनाने वाली इस फैक्ट्री से भारी मात्रा में बने व अधबने हथियार बरामद किये थे। पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान दो बदमाशों को भी गिरफ्तार किया था, हालांकि दो अपराधी चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गये थे, लेकिन पकड़े गए बदमाश फुरकान उर्फ बहरा व नसीम ने बताया था कि लोकसभा चुनाव के लिए उन्हें अवैध हथियारों की एक बड़ी खेप तैयार करने का ऑर्डर मिला था, जिसकी तैयारी में वे लगे हुए थे। असलहा फैक्ट्री शामली के थानाभवन क्षेत्र के गांव भैसानी इस्लामपुर के जंगल में संचालित की जा रही थी। जानकारों की मानें तो यदि समय पर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर उक्त अवैध हथियारों की फैक्ट्री को नेस्तनाबूत नहीं किया जाता तो इसका लोकसभा चुनाव में नतीजा देखने को मिल सकता था।

epmty
epmty
Top