Top

एक सलाम जाबांज सिपाही अंकित तोमर की शहादत के नाम

शामली जिले के कैराना कोतवाली क्षेत्र के गांव जधेड़ी में दो दिन पहले मुकीम काला गिरोह एक लाख के इनामी बदमाश साबिर से मुठभेड़ हुई थी। जिसमें जाबांज पुलिस सिपाही अंकित तोमर को गोली लग गई थी, जिसके बाद उन्हें नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में भर्तीं कराया गया था। मुठभेड़ में जाबांज पुलिस सिपाही के सिर व छाती में गोली लग गई थी। दिमाग में गोली धंसने से वह कोमा में चले गए थे उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया। देश के वरिष्ठ चिकित्सकों ने अंकित तोमर के दिमाग में धंसी गोली निकालने के लिए पूरी कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो सके। अंकित तोमर ने रात 9.30 बजे आखिरी सांस ली जाबांज पुलिस सिपाही अंकित तोमर के शहीद होने की खबर से अंकित के गांव बागपत के गांव वाजिदपुर और पुलिस महकमे में शोक छा गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा शहीद सिपाही अंकित तोमर की वीरता और साहस को नमन एवं उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ तथा शोक संतप्त परिवार को आघात सहने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ,उनके परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की है आर्थिक सहायता के रूप में 40 लाख रुपए शहीद की पत्नी व 10 लाख रुपए उनके माता-पिता को दिए जाएंगे

epmty
epmty
Top