Top

एडीजीपी आंनद कुमार के निर्देशन में फ्रंट फुट पर यूपी पुलिस -- बैकफुट पर है बदमाश

एडीजीपी आंनद कुमार के निर्देशन में फ्रंट फुट पर यूपी पुलिस -- बैकफुट पर है बदमाश

लखनऊ : 7 जुलाई को जैसे ही उत्तर।प्रदेश के एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर का चार्ज आंनद कुमार ने संभाला वैसे ही यूपी में बदमाशों पर जैसे आफत आ गयी । क्राइम कैपिटल के नाम से जब मुज़फ्फर नगर को जाना जाता था तब आंनद कुमार ने वहां के बदमाशो में खाकी का ख़ौफ़ पैदा कर दिया था मुज़फ्फर नगर के आसपास के सहारनपुर, मेरठ, देहरादून, गाज़ियाबाद, नोएडा जैसे जनपदों में बतौर कप्तान आनंद कुमार ने बदमाशो के खिलाफ खूब पारी खेली । उसी पैटर्न पर अब आंनद कुमार पूरे प्रदेश में पुलिस का इक़बाल बुलंद करना चाहते है यही वजह है कि दो महीने के कार्यकाल में सैकड़ो इनामी अपराधी जेल की सलाखों के पीछे चले गए और 9 कुख्यात बदमाश परलोक एक्सप्रेस का टिकट लेकर कभी ना वापस आने का वादा करके चले गये। पुलिस की इस कार्यशैली से आम आदमी के अच्छे दिन आते दिखाई दे रहे है।
अब तक 9 अपराधी बोल्ड
जुर्म की दलदल में फंसे कुख्यात बदमाशो का इस समय पुलिस से टकराने सही नही हो रहा है। शामली को क्राइम फ्री करने में जुटे वहां के कप्तान अजयपाल शर्मा ने तीन बदमाशों नोशाद डैनी, सरवर ओर इकराम को तो मुज़फ्फर नगर के एसएसपी सुपरकॉप कहे जाने वाले अनंन्तदेव तिवारी की टीम ने नितिन ओर नदीम को तो 2009 बेच के अफसर आज़मगढ़ के पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने जयहिंद यादव और एक अन्य इनामी को तो अपनी नोकरी की शरुआत में ही गाज़ियाबाद में लूट करके भाग रहे तीन बदमाशों को आमने सामने की मुठभेड़ में मार गिराने वाले एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार ने सुनील शर्मा व एक ओर बदमाश को एनकॉउंटर में मार गिराया है।
एनकाउन्टर में मेरठ एडीजीपी प्रशांत कुमार और डीआईजी सहारनपुर क सुनील इमैनुएल के निर्देशन में सहारनपुर रेंज अव्वल
वैसे तो इनामी अपराधियो के खिलाफ पूरे सूबे में अभियान चला हुआ है लेकिन एडीजीपी जोन प्रशांत कुमार के निर्देशन में पुलिस और बदमाशो के बीच चल रही मुठभेड़ में मेरठ जोन अव्वल चल रहा है प्रशांत कुमार भी एनकाउन्टर स्पेस्लिस्ट है गाज़ियाबाद में लगभग तीन साल एसएसपी रहने के दौरान 150 से ज्यादा बदमाशो को ऊपर का रास्ता दिखा चुके है इसलिए मेरठ ज़ोन में इनामी बदमाश जहां जेल जा रहे है वही वो बदमाश जो खाकी का कमजोर मान कर अपराध करने से बाज नही आ रहे है वो पुलिस की bullet से घायल होकर या तो अस्पातल का रुख कर रहे या बीच रास्ते मे यमलोक पहुंच रहे है। पूरे प्रदेश में मुठभेड़ में मारे गए कुल 9 बदमाशो में अकेले सहारनपुर रेंज में शामली में तीन ओर मुज़फ्फर नगर में दो बदमाशो का एनकॉउंटर हो चुका है। यानी मेरठ ज़ोन अपराधियो के खिलाफ कार्यवाही में अव्वल चल रहा है
मुज़फ्फरनगर में 24 घंटे में तीन एनकॉउंटर, एक मौत के आगोश में दो अस्पताल के बेड पर
मुज़फ्फरनगर एसएसपी अनंन्तदेव के नेतृत्त्व में पिछले 24 घंटे में तीन एनकॉउंटर हुए सबसे पहले बुढाना इंस्पेक्टर चमन सिंह चावड़ा ने 5 हजार के इनामी ओर कई डकैती की वारदातों में फरार चल रहे कुख्यात अपराधी फुरकान को मुठभेड़ के बाद गोली लगी अवस्था मे पकड़ा तो उसी रात ककरौली एसओ अनिल कुमार ने 12 हजार के इनामी ओर पुलिस कर्मियों की आंख में मिर्च डालकर फरार हुए नदीम को एनकॉउंटर में मार गिराया दो एनकॉउंटर बदमाशो की खबर अभी सुर्खियों में ही थी तब खतौली के कोतवाल पीतम सिंह का 12 हजारी मोबीन से मुकाबला हुआ तो पुलिस जीती ओर मोबीन गोली से घायल होकर अस्पताल पहुंच गया । मुज़फ्फरनगर के जनमानस में एसएसपी अनंन्तदेव की बदमाशो के खिलाफ अभियान चलाने

epmty
epmty
Top