Top

ऑनलाइन दवा खरीदने वालो को सुभाष चौहान ने किया सावधान

ऑनलाइन दवा खरीदने वालो को सुभाष चौहान ने किया सावधान

बुढ़ाना। केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के द्वारा आज बुढ़ाना में विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस गोष्ठी में मुख्य अतिथि सुभाष चौहान ने कहा कि आम जनमानस को जागरूक करें कि वह ऑनलाइन दवा न खरीदें। इन दवाईयों का सही होने का कोई प्रमाण नहीं होता है, यह समाज हित में नहीं है। उन्होंने पोर्टल की खामियों को दूर कराने में मंत्री कपिलदेव अग्रवाल का विशेष योगदान बताया।

बुढ़ाना में आज केशव गार्डन बड़ौत रोड़ पर केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के द्वारा भव्य अभिनंदन समारोह एवं विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष चौहान रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता बुढ़ाना केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेंद्र सैनी ने की और कार्यक्रम का संचालन मुजफ्फरगनर केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के महामंत्री संजय गुप्ता द्वारा किया गया। इनके अलावा मुजफ्फरनगर केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के चेयरमैन प्रमोद मित्तल मुख्य वक्ता और डॉ आर के गुप्ता कार्यक्रम के विशेष अतिथि रहे।


अभिनंदन समारोह में मुजफ्फरनगर केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के सतीश तायल, मुकेश सोम, संजीव वर्मा, दिव्य प्रताप राणा, अरुण प्रताप सिंह, सचिन त्यागी, राजेश जुनेजा, अमित वत्स, कुलदीप शर्मा, सुबोध जैन आदि वरिष्ठ पदाधिकारी बुढ़ाना कार्यक्रम में पहुंचे जिनका बुढाना केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएशन के वरिष्ठ केमिस्ट साथियों के द्वारा अभिवादन एवं माल्यार्पण कर स्वागत किया गया।

केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सुभाष चौहान ने कहा कि सभी केमिस्टों को ओसीडीयूपी के लिये संगठित होकर काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि ओसीडीयूपी के वरिष्ठ पदाधिकारी दिवाकर सिंह एवं सुधीर अग्रवाल ने आईओसीडी से बात की। पदाधिकारियों ने ब्रैकेज एवं एक्सपायरी का समय 6 माह के लिये अतिरिक्त समय कोरोना काल में कंपनियों से बढ़वा दिया है। सुभाष चौहान ने कहा कि हमारी संस्था ई-फार्मेसी का विरोध करती आ रही है। इसमें सरकार की नीति दवा व्यापारियों के लिये ठीक नहीं है। हमारे दवा व्यापारियों को सारी बाध्याताओं का पालन करना पड़ता है जबकि ऑनलाइन दवा व्यापार में कोई बाध्यता नहीं होती है। ऑनलाइन दवा व्यापार में सीधे-साधे मरीजों को सही दवाई नहीं मिल पाती है। उन्होंने कहा कि कई बार समाचार पत्रों के माध्यम से भी इस विषय में सूचना मिली है कि ऑनलाइन के माध्यम से नकली और नशीली दवाईयां पकड़ी गई हैं। इससे हमारा युवा वर्ग नशे का आदी होता जा रहा है।

इसके अलावा सुभाष चैहान ने कहा कि पिछले माह मुजफ्फरनगर जनपद से दवा पोर्टल में खामियों की आवाज उठी। इसमें सरकार के स्वतंत्र प्रभार मंत्री कपिलदेव अग्रवाल का विशेष योगदान रहा। मंत्री कपिलदेव अग्रवाल ने संबंधित आयुष मंत्री धर्म सिंह सेनी से वार्ता कर सभी खामियों को दूर करावाया। इन पोर्टल की कमियों को लेकर मुजफ्फरनगर केमिस्ट एसोसिएशन ने संबंधित आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी ने सहारनपुर में जाकर संगठन की ओर से ज्ञापन देकर अवगत कराया था। उन्होंने इन सारी कमियों को दूर करने की मांग की थी। अंत में सुभााष चैहान ने अपने सभी दवा व्यापारियों से आह्वान किया कि वह सभी आम जनमानस को जागरूक करें कि वह ऑनलाइन दवा न खरीदें। इन दवाईयों का सही होने का कोई प्रमाण नहीं होता है, यह समाज हित में नहीं है।

मुख्य वक्ता प्रमोद मित्तल ने सेल टैक्स व्यापारियों दिक्कत आ रही है। इस विषय में सभी दवा व्यापारियों को उनके निस्तारण के लिये अवगत कराया। उन्होंने दवा व्यापारियों को समझाया कि दवा व्यापार दवा व्यापार की तरह ही हमेशा बिल से खरीदें और बिल से ही दवाईयां बेचें। सभी ईमानदारी के साथ कार्य करें और अपने स्टोर पर वही दवा रखें जो वह अपने बच्चों को भी दे सकें।

कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे बुढ़ाना केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष्य नरेन्द्र सैनी ने बाह से आये मुख्य अतिथियों एवं पदाधिकारियों का हौंसला बढ़ाने के लिये उनका धन्यवाद दिया। उन्होंने आश्वस्त किया कि बुढ़ाना केमिस्ट एसोसिएशन से जुड़े सभी दवा व्यापारी समाज के हित में कार्य करते रहेंगे।

कार्यक्रम में जय सिंह सैनी (हेमंत मेडिकल स्टोर परसौली), मास्टर अनिल कात्यान (ममता मेडिकल स्टोर हुसैनपुर कला ),अरविंद सैनी( विशाल मेडिकल स्टोर बुढ़ाना), मनोज भारद्वाज (भारद्वाज मेडिकल स्टोर), ठाकुर सुरेश सिंह (सुरेश मेडिकल स्टोर), इसरार खान (खान मेडिकल बुढ़ाना), संदीप सैनी (सहरावत मेडिकल), शरद (शिवम मेडिकल), आनंद त्यागी (आनंद मेडिकल), इस्लाम (किसान मेडिकल), जगजीवन अग्रवाल (अग्रवाल मेडिकल), निपुण (अमर मेडिकल), बिंदु सैनी (सैनी मेडिकल), अमित चौधरी (अमित मेडिकल), परवेज सलमानी (अर्श मेडिकल), विनोद सैनी (तुषार मेडिकल), बुरान अली (वसीम मेडिकल), शमी फ़रियाद (सलीम मेडिकल), विकास त्यागी (विकास मेडिकल) सहित सैकड़ों मेडिकल स्टोरों के दवा व्यापारी उपस्थित रहे।

epmty
epmty
Top