Top

अजित सिंह 2019 का चुनाव मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से लड़ सकते हैं

अजित सिंह 2019 का चुनाव मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से लड़ सकते हैं

मुज़फ्फर नगर : साल 2014 में बागपत लोकसभा सीट से सत्यपाल सिंह से शिकस्त हासिल करने के बाद राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह 2019 का चुनाव मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से लड़ सकते हैं। राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह 13 और 14 फरवरी को मुज़फ्फरनगर का दौरा करेंगे। राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह के जाट और मुस्लिम गांवों में ही कार्यक्रम है उनका रात्रि विश्राम भी किसानों के बीच गांवों में ही रहेगा। 13 फरवरी को सबसे पहले सरकुलर रोड स्थित पार्टी कार्यालय पहुंचेंगे। यहीं से वह जनपद के गांवों की ओर कूच करेंगे। उनका कार्यक्रम प्रमुख रुप से मुस्लिम और जाट गांवों में है, जो क्षेत्र दंगा प्रभावित है उसे फोकस किया गया है।
राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह के दो दिन जिले के कार्यक्रम को लेकर यह चर्चा शुरू हो गई है कि वह मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं।उत्तर प्रदेश में जब से भारतीय जनता पार्टी की तीन चौथाई बहुमत की सरकार बनी है, तभी से विपक्षी दल उसे 2019 में रोकने के लिए रणनीति बना रहे हैं।
सूत्रों के मुताबिक खबरें आ रही हैं की मुजफ्फरनगर से चौधरी अजित सिंह के चुनाव लड़ने से जाट मुस्लिम गठजोड़ पुख्ता होगा और इसका असर कई जिलों में पड़ेगा। मुजफ्फरनगर दंगे के बाद बिखरे जाट-मुस्लिम एकता के ताने-बाने को फिर से जोड़ने के लिए अन्य पार्टियों के बड़े मुस्लिम नेता राष्ट्रीय लोक दल में भी आ रहे हैं। मुजफ्फरनगर को कभी राष्ट्रीय लोक दल का गढ़ कहा जाता था।
राष्ट्रीय लोकदल अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह 2019 का लोकसभा चुनाव समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर लड़ सकती है। इस गठबंधन के सहारे राष्ट्रीय लोकदल पश्चिम उत्तर प्रदेश में अपने आप को फिर से मजबूत करने की योजना बना रहा है। साथ ही राष्ट्रीय लोकदल के नेता मुस्लिमों के बीच भी सक्रिय हो गए हैं।

epmty
epmty
Top