डोभाल का मिशन कश्मीर अमन की पुरजोर कोशिश

डोभाल का मिशन कश्मीर अमन की पुरजोर कोशिश

शोपियां । भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 और 35 A के खत्म होने के बाद वादी-ए-कश्मीर में अमन-चैन का जायजा लेने के लिए कश्मीर पहुंचे मुकामी बाशिंदों ने एक बेहतरीन कदम माना और ख़ैर-मक़्दम किया ।


भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल ने कश्मीर के शोपियां की सड़कों पर मुकामी बाशिंदों के साथ दावतें बिरयानी कबूल कर मौजूदा हालात पर गुफ्तगू की और कहा~

"सब लोग आराम से रहें, ऊपर वाले की मेहरबानी है।आप लोग बिल्कुल मुतमईन रहिए सब कुछ अच्छा होगा। आपकी सलामती ही हमारा फर्ज है, आप और आपके बच्चे हिफाज़ती माहौल में रहें। यहां पर सुकून से रह सकें, तालीम ले सआगे बढ़ सकें औऱ दुनिया में अपना नाम कमा सकें,अपने मुल्क और मजहब की हिफाजत कर सके। एक अच्छे इंसान की तरह रहें। रोज-रोज दुकानों का बंद कर देना सही नहीं है, इसे बदल कर एक अलग अमन और सकून का माहौल बनाएं।"




भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल ने मिलिट्री फोर्स और पुलिस फोर्स से भी मुलाकात की और उनकी हौसला अफजाई की और फोटो खिंचवा कर उनका हौसला भी बढ़ाया।
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल ने आर्म्ड फोर्स को उनके फर्ज और ड्यूटी के बारे में बताया कहा सिक्योरिटी फोर्स ने यहां हर हालत में चाहे बाढ़ हो भूकंप हो उत्कृष्ट सेवा दी है। उनके साथ जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह भी इस दौरान मौजूद थे।




भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल का मुकामी बाशिंदों के साथ खाना खाना इस बात का इशारा करता है कि हकूमत किस तरह से धारा 370 हटाने जाने के अहम और हिस्टोरिकल फैसले के बाद हालात को संभालने और अमन कायम करने में जुटे हैं।


जम्मू कश्मीर के हालात पर हकूमत की सख्त और कड़ी नजर है, मौजूदा वक्त में वादी-ए-कश्मीर धारा 144 लगी हुई है जो अगले हुक्म तक जारी रहेगी अलबत्ता सभी स्कूल और कॉलेज आज तक बंद रहेंगे ,जबकि सरकारी दफ्तर, बैंक आज से खुल जाएंगे।


epmty
epmty
Top