सावधान ! कप्तान अभिषेक यादव मुज़फ्फरनगर में है

सावधान ! कप्तान अभिषेक यादव मुज़फ्फरनगर में है

मुजफ्फरनगर। दिनांक 6 अगस्त रात के लगभग 11 बजने को थे, कि अचानक शहर कोतवाली की खालापार पुलिस चौकी के सामने एक लग्जरी गाड़ी आकर रुकी । गाड़ी से उतरने वाले शख्स को देख कर चौकी पर तैनात दरोगा अजय बालियान ने तुरंत ही जय हिंद कहते हुए सेल्यूट किया, तो चौकी के आस-पास खड़े लोगों ने सोचा कि यह कोई पुलिस का बड़ा अफसर है लोगो का अंदाज़ा लगाना सही भी निकला क्यूंकि वो थे पुलिस कप्तान अभिषेक यादव ।

कप्तान अभिषेक यादव ने उतरते ही सब इंस्पेक्टर अजय बालियान से चौकी इंचार्ज व अन्य स्टाफ की जानकारी ली, और थोड़ी देर चौकी का मुआयना करके चले गए। उनके जाते ही पुलिस में हड़कंप मच गया। बाद में पता चला कि कप्तान अभिषेक यादव का अचानक आना खालापार के सटोरियों की शामत के साथ साथ कोतवाली पुलिस की सांसे अटकाने की खबर लेकर आया था। गौरतलब है कि कप्तान अभिषेक यादव ने अपने सूत्रों की सट्टा होने की सूचना के आधार पर खालापार में अपनी टीम से दबिश दिला कर सटोरियों को गिरफ्तार करा कर उन्हें बड़े घर को रवाना करा दिया है। एसएसपी अभिषेक यादव के अचानक से कहीं भी पहुंच जाने की खबरें मुजफ्फरनगर के पुलिसकर्मियों और अवैध धंधे करने वालो को मूक चेतावनी समझी जा रही है कि खबरदार हो जाओ अभिषेक यादव अब इस मुजफ्फरनगर जिले के कप्तान है। जानिए अभिषेक यादव की मुजफ्फरनगर को दुरुस्त करने के लिए की गई कुछ खबरें............ युवा आईपीएस अभिषेक यादव ने बतौर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद में गुड पुलिसिंग के मायने बदलते हुए केवल एनकाउंटर के बल पर ही आला अफसरों की नजर मे हीरो बनने वाले पुलिसकर्मियों को अपनी कार्यशैली से चेता दिया है कि जनपद में अवैध धंधे करने वालों के साथ ही भ्रष्ट पुलिस वाले भी उनके निशाने पर हैं। उनके द्वारा किये जाने वाले औचक निरीक्षणों से जनपद पुलिस व अवैध धंधेबाजों को स्पष्ट संदेश प्राप्त हो चुका है ।




बता दें कि कांवडयात्रा को सकुशल सम्पन्न कराने के बाद पुलिस कप्तान अभिषेक यादव ने पूरा ध्यान अब ईदुलजुहा पर सुरक्षा व्यवस्था मुकम्मल कराने के साथ ही गुड पुलिसिंग की ओर लगा दिया है। इसके तहत उन्होंने हाल ही में मीरापुर व तितावी थाने का औचक निरीक्षण भी किया। जहां मीरापुर थाने के औचक निरीक्षण में उन्होंने जहां साफ-सफाई पर ध्यान देने के साथ पुलिसकर्मियों की समस्याओं को गम्भीरता से लिया, वहीं तितावी थाने में पुलिस अफसरों की उदासीनता के चलते रात को थाने में उजाले की मुकम्मल व्यवस्था नहीं होने पर नाराज भी नजर आये। उन्होंने सभी पुलिस अफसरों व कर्मचारियों को ऑनमाइक किया और लोगों की समस्याओं को गम्भीरता से उसका गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण के निर्देश दिये। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने बुढ़ाना में एक आदमी की पिटाई के वायरल हुए वीडियो पर गम्भीर रूख अपनाते हुए दो दरोगा सहित एक पुलिस कर्मचारी को निलम्बित करके स्पष्ट संदेश दिया था, कि किसी की गुंडागर्दी और पुलिस की लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी, पुलिस को अपराधियों के खिलाफ सख्त तो आम आदमी के साथ नरम रवैया अपनाना ही होगा।




पुलिस कप्तान अभिषेक यादव खुद को बदमाशों के साथ धांय-धांय करने वाले पुलिस अफसर तक ही सीमित नहीं रखना चाहते, बल्कि वे स्वयं को सामाजिक सरोकारों से जोड़कर भी रखना चाहते हैं, इसी के चलते उन्होंने न केवल पुलिसवालों को, बल्कि आमजन को भी साफ-सफाई रखने का संदेश दिया है। उन्होंने पर्यावरण सुधार के लिए पुलिस अफसरों सहित आम जन से वृक्षारोपण करने का आहवान करते हुए कहा है कि आने वाली पीढ़ी के सुरक्षित भविष्य के लिए धरती पर पेड़ों का लगाना और उन्हें संरक्षित करना बेहद जरूरी है। कभी अभिषेक यादव कांवडयात्रा के दौरान भण्डारा चखते नजर आये तो कभी अपनी सरकारी गाड़ी का मोह छोड़कर मोटर साइकिल पर अकेले ही सुरक्षा व्यवस्था चैक करते नजर आये। इस दौरान उन्होंने न केवल कांवड व्यवस्था में लगे छात्रों को प्रोत्साहित किया, बल्कि उनके साथ फोटों भी खिचवाये। इस दौरान उन्होंने शिवभक्त कांवडियों का पुष्पवर्षा करके जनपद में स्वागत भी किया और नगर का हृदयस्थल माने जाने वाले शिव चौक पर स्थापित कंट्रोलरूप के निरीक्षण के दौरान सीसीटीवी कैमरों और ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों की मुस्तैदी को खुद परखा था।



ज्ञात हो कि रोड़वेज के आसपास बे-तरतीब से बसे खड़ी करके रास्ता अवरूद्ध करने पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने बस चालकों को कसकर फटकार लगायी थी। उस वक्त कई बसों का चालान भी किया गया था। एसएसपी की चेतावनी का अच्छा असर पड़ा था और वहां आवागमन सुगम हो गया था। बीते दिवस फिर से बस चालकों द्वारा रास्ता अवरूद्ध करने पर उन्होंने बस चालकों को चेतावनी दी है कि यदि कोई बस चालक रास्ते में बस खड़ी करता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
युवा आईपीएस अफसर ने जनपद की पुलिसिंग में सुधार लाने के लिए औचक निरीक्षण का क्रम जारी रखते हुए बीती रात सादी वर्दी में खालापार चौकी पर धावा बोला और क्राईमब्रांच के अफसरों को बुलाकर कई सट्टेबाजों को गिरफ्तार कराया। उन्होंने पुलिस अफसरों व कर्मचारियों को अपने असलाहों की साफ-सफाई करके उन्हें चालू हालत मे रखने के सख्त निर्देश भी दिये, ताकि मौका पड़ने पर इन हथियारों से बेहतर काम लिया जा सके।
बता दें कि युवा पुलिस अधिकारी अभिषेक यादव ने जिस समय जनपद में कार्यभार सम्भाला था, उस समय कई चुनौतियां उनकी अग्नि परीक्षा लेने के लिए सामने थी। अभिषेक यादव के जनपद में आते ही रोहित सांडू ने पुलिस अभिरक्षा से फरार होकर उन्हें खुला चैलेंज दे डाला था, जिसे उन्होंने कबूल भी किया और बहुत ही जल्द रोहित सांडू को उसके अंजाम तक पंहुचा दिया था। इसके बाद कांवड यात्रा को सकुशल सम्पन्न कराकर वे इस अग्नि परीक्षा में खरे साबित हुए हैं।


पुलिस को अपने इलाको में चल रहे अवैध धंधों को बंद करना होगा अगर किसी भी अवैध धंधे के चलने में पुलिस का इन्वॉल्मेंट मिला तो सख्त कार्यवाही की जायेगी ,और अवैध धंधें करने वाले या तो काम बंद कर दें नहीं तो जिला छोड़ दें - एसएसपी अभिषेक यादव





epmty
epmty
Top