Top

तीन साल आम आदमी पार्टी सरकार

तीन साल आम आदमी पार्टी सरकार

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने 14 फरवरी को तीन साल पूरे कर लिए हैं जिसके मौके पर दिल्ली सरकार ने दिल्ली में एक कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी पूरी कैबिनेट और सरकार के अफ़सरों के साथ मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने दिल्ली की जनता के सवालों के जवाब देने से पहले उनकी सरकार द्वारा पिछले तीन साल में दिल्ली की जनता के लिए किए कामों को गिनवाया और सरकार की बड़ी योजनाओं को जनता के समक्ष रखा।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि 'दिल्ली सरकार ने स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतरीन काम किया जिसके तहत सरकार स्वास्थ्य क्षेत्र में 3 टियर सिस्टम ला रही है, मोहल्ला क्लिनिक, पॉलीक्लिनिक और सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल। 164 मोहल्ला क्लिनिक बनकर तैयार हो चुके हैं और 786 मोहल्ला क्लिनिक बन रहे हैं।

"दिल्ली के अंदर 26 पॉली क्लीनिक खुल चुके है, 94 पॉली क्लीनिक के लिए जमीन देखी जा चुकी है, उनके लिए पैसा भी जारी किया जा चुका है। हम प्राइवेट अस्पतालों के खिलाफ नहीं है, लेकिन हम ये चाहते है की सरकारी अस्पतालों की कैपेसिटी इतनी बढ़ा दी जाएं की प्राइवेट अस्पतालों में जाने की जरुरत ना पड़े।
हमे ये लगता है की अगर देश के लोगों को तैयार कर दिया गया तो वो देश को बहुत ऊँचाई तक ले जा सकते है इसलिए हमने ये तय किया की हम सबसे ज्यादा खर्चा शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में करेंगे। जनता टैक्स देती है तो उसे भी कुछ न कुछ मिलना चाहिए, हमारी सरकार इस पर काम कर रही है कि अगर कोई बच्चा दिल्ली में पैदा होता हैं तो उसकी शिक्षा और स्वास्थ्य का सारा खर्चा दिल्ली सरकार का होगा।
जब हम आंदोलन में थे तब लोग कहते थे कि सारी कमाई तो बिजली और पानी के बिल में चली जाती है, लेकिन जब से हमारी सरकार आई है तब से हमने बिजली के बिल नहीं बढ़ने दिए। साल 2010 में 400 यूनिट खर्च करने पर 1340 रु आता था, 2014 में 2040 रु आता था, 2017-18 में अब 1170 रूपये आता है।
भारत सरकार के कुल बजट में स्वास्थ्य पर ढाई प्रतिशत खर्च होता है, राजस्थान में साढ़े चार प्रतिशत होता है लेकिन दिल्ली में हम 12% खर्च करते है, क्योंकि हमारी सरकार के पास इच्छा शक्ति है – अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री दिल्ली
मैं जब अस्पतालों में जाता हूँ तो 95% लोग कहते है कि सब कुछ बढ़िया चल रहा है, एक शिकायत ये मिलती है की भीड़ बहुत ज्यादा होती है, इसके लिए भी हम एक पॉलिसी पर विचार कर रहे है,जल्द ही उसे जनता के सामने रखा जाएगा।
70 सालों से दिल्ली में 10,000 बेड्स थे, इस साल के अंत तक 3,000 बेड्स और तैयार हो जाएंगे और अगले साल तक 2,500 बेड्स और तैयार हो जाएंगे, हम चार साल में पिछले 70 साल के मुताबिक 50% बेड्स बढ़ा देंगे।
राजनीति में सबसे बड़ा काम होता है जनता का काम, मैं खुद अपनी जनता से सोमवार से शुक्रवार रोज सुबह 10 से 11 बजे बिना अपॉइंटमेंट के मिलता हूं, और उनकी समस्याएं सुलझाने का काम करता हूं।
दिल्ली में हमने 582 नए ट्रांसफार्मर लगाये जिससे लोगों के पॉवर कट होना बन्द हो गया, जब हमारी सरकार बनी थी तब 11.5 करोड़ यूनिट बिजली की कटौती होती थी, पिछली बार ये घट कर डेढ़ करोड़ यूनिट हो गई।
पिछली सरकार ने 15 साल में 33 स्कूल बनाये थे, हमारी सरकार अपने चार साल पुरे होने तक 48 नए स्कूल बना चुकी होगी- अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री दिल्ली
जब हमारी सरकार बनी थी तब पानी की प्रोडक्शन 800 मिलियन गैलेन प्रतिदिन थी, आज पानी की प्रोडक्शन 900 मिलियन गैलेन प्रतिदिन की है। तो वहीं रोजगार मेले का हमने नया कांसेप्ट निकाला, अब तक 6 जॉब फेयर का आयोजन हो चुका है जिसमें 268 कंपनियों में 24,000 से ज्यादा युवाओं को सेलेक्ट किया जा चुका है।
पिछले 3 साल में 448 नयी कॉलोनियों में पानी की पाइपलाइन बिछाई गयी है, आने वाले 2 साल के अंदर हम हर कॉलोनी तक पानी की पाइपलाइन पहुँचा देंगे। 46 कॉलनियों के अंदर पिछले 3 साल में सीवर की पाइपलाइन बिछाई गई है।
जब हमने ओड-इवन लांच किया था तब हमसे कहा गया की इससे आपकी सरकार को नुकसान होगा लेकिन हमारी सरकार की नीयत साफ़ थी जिसके दम पर हम ये काम को सफल बना सके। जय भीम मुख्यमंत्री योजना के तहत हमारी सरकार ने SC/ST वर्ग के बच्चों को उनकी कोचिंग के लिए आर्थिक मदद वाली स्कीम लॉंच करी, जिससे उनको कोचिंग में मदद मिली।
ईस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफेरल मार्ग दोनों जून तक तैयार हो जाएंगे, केंद्र सरकार द्वारा इसे बनाया जा रहा है, इसके बनने के बाद दिल्ली की जनता को प्रदूषण से काफी हद्द तक राहत मिलेगी।
आने वाले साल में हमारे कुछ मुख्य प्रोजेक्ट्स शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और पानी पर हमारा निवेश जारी रहेगा, इस साल सडकों और नालियों पर सरकार युद्ध स्तर पर काम करने जा रही है।
CCTC कैमरे का भी टेंडर पास हो गया है, जो अब बहुत जल्द लगने शुरू हो जाएंगे! गवर्नेंस में सबसे बड़ा क्रांतिकारी कदम जो आने वाला है वो है "डोर स्टेप सर्विसेज", जो आने वाले समय में लागू हो जाएगा! राशन की भी डोर स्टेप डिलिवरी जल्द ही शुरू होने वाली है।
इस साल पूरी दिल्ली में फ्री-वाईफाई लगाने की योजना जारी है, मुझे पूरी उम्मीद है इस साल के अंत तक फ्री वाई फाई की भी शुरुवात हो जाएगी। एक सवाल उठता है की इतना पैसा कहाँ से आ रहा है, ये सब ईमानदार नियत की वजह से हुआ है, ये हम नहीं कह रहे है ये CVC की रिपोर्ट कहती हैं कि दिल्ली में 81% भ्रष्टाचार कम हुआ है।
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि 'दिल्ली सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली तथा पानी जैसे कई क्षेत्रों में तो ऐतिहासिक काम किया ही है, पार्टी के विधायकों ने भी अपने-अपने एरिया में ऐतिहासिक काम किए हैं।
टैक्स बढ़ाने के बजाय हमने दिल्ली के अंदर टैक्स साढ़े सात प्रतिशत घटा दिया, इसके बावजूद Revenue Collection में जिस तरीक़े से भारी बढ़ोतरी हुई है, वो ही हमारी सरकार के ईमानदार होने का सबूत है। एक ईमानदार सरकार का काम जनता के टैक्स के पैसे को पूरी तरह से सरकारी ख़ज़ाने में जमा कर उस पैसे का प्रयोग जनता की भलाई के लिए ख़र्च करना है। हमारी सरकार आने से पहले दिल्ली का बजट 32000 करोड़ रुपए था जो अब 48000 करोड़ रुपए हो गया है।
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत पूरी कैबिनेट ने दिया जनता के सवालों के जवाब-

Q – आपने 1000 मोहल्ला क्लीनिक बनाने का वादा किया था जबकि इस समय दिल्ली में केवल 150 मोहल्ला क्लिनिक्स ही कार्यरत हैं,बाक़ी कब बनेंगे?

A – जो अड़चनें थीं वो दूर हो गयी हैं,अगले 8-9 माह में बाक़ी के क्लिनिक्स बनकर तैयार हो जाएँगे।

Q- स्वास्थ्य और शिक्षा में ख़ूब काम हुआ है, दिल्ली की सुंदरता बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा क्या क़दम उठाए जा रहे हैं?

A-PWD की 500 Km की सड़कों की Landscaping कर उनके दोनों तरफ़ पौधारोपण किया जाएगा।सड़कों की Resurfacing करायी जाएगी,जिस से उनकी सुंदरता बढ़ेगी।

Q- वरिष्ठ नागरिकों के लिए आपने DTC बसों मुफ़्त में यात्रा की सेवा देने की बात कही थी, अभी तक ये योजना लागू क्यूँ नहीं हो सकी?

A-इसके संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं, जल्द ही वरिष्ठ नागरिकों को DTC बसों में फ़्री यात्रा की सेवा मिल सकेगी।

Q- Odd-Even फिर से कब लागू होगा? A- Odd-Even ट्रैफ़िक और प्रदूषण की समस्या का स्थायी हल नही है,उसके लिए हम दूसरे समाधान ढूँढ रहे हैं,प्रदूषण का स्तर एक चिन्हित सीमा से ऊपर जाने के बाद ही Odd-Even लागू किया जाना चाहिए।

Q- शिक्षा और स्वास्थ्य में आपके काम सराहनीय हैं लेकिन कच्ची कालोनियों में अभी कुछ ख़ास विकास कार्य नही दिखायी देते,ऐसा क्यूँ?

A-हमने इस साल के बजट में इस काम के लिए राशि तय की है,1 साल के अंदर कच्ची कालोनियों के अंदर सड़क और नाली का काम पूरा हो जाएगा।

Q- Contract पर रखे गए लोगों को स्थायी ना करने की स्थिति में सरकार कुछ ऐसा कर सकती है की उनको आगे नौकरी से ना निकला जाए?

A-दिल्ली सरकार पहले ही Contract पर रखे लोगों को नौकरी से ना निकालने का फ़ैसला ले चुकी है।

epmty
epmty
Top