Top

राजनेता की भाषा राज्यपाल के मुंह से शोभा नहीं देती

राजनेता की भाषा राज्यपाल के मुंह से शोभा नहीं देती

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस के नेता व सांसद राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। पिछले तीन दिनों से संसद से लेकर विधानसभा तक में राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी के खिलाफ तृणमूल ने मोर्चा खोल रखा है। तृणमूल महासचिव व संसदीय कार्य व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने यहां तक कहा कि केसरी नाथ त्रिपाठी ने राज्यपाल के पद को कलंकित किया है और पूरी तरह से असंवैधानिक कार्य कर रहे है।
यह बयान आने के अगले ही दिन राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने तीखी टिप्पणी दी। गत दिनों एक कार्यक्रम से इतर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी से जब पत्रकारो ने इस बाबत सवाल किया तो राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने कहा, बोलूंगा तो कड़वा लगेगा, राजभवन पर कीचड़ उछालने से पहले उन्हे बाथरूम में जाकर आइने में अपना चेहरा देखना चाहिए और अपने चेहरे पर लगे कीचड़ को पहले साफ करना चाहिए।
राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी के इस बयान पर पार्थ चटर्जी से जब पूछा गया तो उन्होंने कुछ भी कहने से साफ इन्कार कर दिया। उनके सहयोगी मंत्री व कद्दावर तृणमूल नेता फिरहाद हकीम ने राज्यपाल पर निशाना साधा। फिरहाद हकीम ने कहा कि राजनेता की भाषा राज्यपाल के मुंह से शोभा नहीं देती। उन्होंने कहा कि देश की जनता ऐसा सुनने को अभ्यस्त नहीं है, इससे राज्यपाल के पद की गरिमा को ठेस पहुंचती है।

epmty
epmty
Top