कर्नाटक चुनाव : बहुजन समाज पार्टी और जनता दल (से) मे गठबंधन

कर्नाटक चुनाव : बहुजन समाज पार्टी और जनता दल (से) मे गठबंधन

दिल्ली : जनता दल सेक्युलर के महा सचिव कुँवर दानिश अली की मेहनत से बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने अब कर्नाटक की सियासत में उतरने का फैसला किया है और बहुजन समाज पार्टी और जनता दल सेक्यूलर मे गठबंधन का एलान किया है।

दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस करके बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा और जनता दल सेक्यूलर के महासचिव दानिश अली ने बहुजन समाज पार्टी और जनता दल सेक्यूलर मे गठबंधन का एलान किया है। इसके साथ ही सतीश चंद्र मिश्रा ने बताया कि 17 फरवरी को बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती बंगलुरु का दौरा करेंगी। इस गठबंधन से कर्नाटक की राजनीति में तूफ़ान ला दिया है।

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा की पार्टी जनता दल सेक्यूलर को बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से काफी मज़बूती मिली है। कर्नाटक में इस गठबंधन को वहां की राजनीति का टर्निंग प्वाइंट माना जा रहा है। राज्य में दलित वोट तकरीबन 24 फीसदी है
कर्नाटक विधान सभा की कुल 224 सीटें हैं, जिसमें दोनों पार्टियों के गठबंधन के बाद बीएसपी 20 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों को उतारेगी। वहीं जेडिएस 204 विधानसभा पर चुनाव लड़ेगी। बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीश मिश्रा व जनता दल सेक्युलर के महासचिव दानिश अली ने बताया कि विधान सभा चुनाव में तो साथ आएं हैं और जो हमारा लक्ष्य है हम उसे हासिल करेंगे। यही नहीं यह गठबंधन 2019 के लोक सभा चुनाव तक जारी रहेगा।

epmty
epmty
Top