Top

समाजवादी पार्टी हर हाल में जनता को हक दिलाने के लिए संघर्ष करती रहेगी : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी हर हाल में जनता को हक दिलाने के लिए संघर्ष करती रहेगी  : अखिलेश यादव

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि वादाखिलाफी से टूटे किसान, बेरोजगारी से जूझते नौजवान, बढ़ती मंहगाई और ध्वस्त कानून व्यवस्था से प्रताड़ित आम इंसान समाजवादी पार्टी हर हाल में जनता को हक दिलाने के लिए संघर्ष करती रहेगी। कमजोर पिछड़ों की ताकत बनकर सोती सरकार को जगाएंगे। हम प्रदेश के निजाम को ऐसे ही नहीं चलने देंगे।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने 10 महीनों में जनता को सिर्फ धोखा दिया है। उसका जनहित में कोई काम नहीं है जिसका उल्लेख किया जा सके। भाजपा का रवैया जनविरोधी और किसान विरोधी है। महामहिम राज्यपाल जी इस सम्बंध में मौन धारण किए हुए हैं।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि अपनी कमियों पर निगाह न डालकर समाजवादी पार्टी पर विधानसभा की कार्यवाही में बाधा डालने का आक्षेप लगाना अमर्यादित और घोर निंदनीय है। भाजपा को लोकतांत्रिक व्यवस्था का अध्ययन करना चाहिए। जनता के हित में आवाज उठाना विपक्ष का दायित्व है। उसके इस अधिकार और दायित्व पर सवाल उठाना स्वयं में लोकतंत्र की अवमानना करना है।
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नेने कहा कि भाजपा सत्ता मद में चूर है। प्रदेश में कानून व्यवस्था का संकट है। आज ही पीजीआई, लखनऊ के पास हत्या हो गई। किसानों की बदहाली पर भाजपा सरकार आंखे मूंदे है। पुराना आलू सड़ गया हैं नए आलू की फसल की कीमत तय नहीं है। बच्चों को स्वेटर नहीं बंटे, वे ठंड में कंपकंपाते रहे।
सच तो यह है कि प्रदेश में अराजकता और अषांति है। इस जनाक्रोश की अभिव्यक्ति समाजवादी पार्टी के विधायक करते हैं तो यह उनकी लोकतांत्रिक जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि भाजपा को राजनीतिक व्यवहार और शिष्टाचार सीखना चाहिए। विपक्ष को डराने धमकाने की भाषा नहीं बोलनी चाहिए। भाजपा सरकार किसानों, नौजवानों की समस्याओं से ध्यान हटाना चाहती है इसीलिए वह समाजवादी पार्टी के सदस्यों की लाल टोपी पर आक्षेप करती है। भाजपा तो समाजवादी पार्टी और लाल टोपी से इस कदर भयभीत है कि मुख्यमंत्री भी लाल टोपी पर टिप्पणी करने लगे हैं।
समाजवादी पार्टी की प्रतिबद्धताएं सामान्य व्यक्ति के सुख-दुःख, रोटी-रोजगार से जुड़ी है। वह गरीब की, किसान की आवाज उठाती है। भाजपा को पूंजीघरानों की चिंता है। जनता भाजपा की बहकाने वाली चालों को खूब समझ रही है। उसका जवाब वह सन् 2019 में जरूर देगी।

epmty
epmty
Top