Top

शिव हरी मीणा पुलिस अधीक्षक रायबरेली के निर्देशन में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

शिव हरी मीणा पुलिस अधीक्षक रायबरेली के निर्देशन में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

रायबरेली : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर गहरी नाराजगी जताने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस पूरी तरह एक्शन मोड में आ चुकी है। नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह की कड़ी चेतावनी के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस में एनकाउंटर का दौर शुरू हो गया है। प्रदेश में संगठित गिरोह चलाने वाले अपराधियों में खलबली मची हुई है और वह सूबे के बाहर ठिकाना तलाशने को मजबूर हो गए हैं। इसी कड़ी में रायबरेली जनपद के पुलिस अधीक्षक शिव हरी मीणा ने जनपद के समस्त थाना प्रभारियों को अपराधियों पर नकेल कसने का फरमान जारी कर दिया है जिसका परिणाम अब सामने आना शुरू हो गया है।

जनपद रायबरेली की पुलिस टीम द्वारा हथियारों के अवैध हथियारों के खूंखार गिरोह को गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। जनपद पुलिस को सूचना मिल रही थी कि अपराधियों का एक गिरोह अवैध हथियारों की खरीद फरोख्त में लगा हुआ है। इन्हें गिरफ्तार करने की रणनीति के तहत पुलिस अधीक्षक रायबरेली के निर्देशन तथा अपर पुलिस अधीक्षक रायबरेली, क्षेत्राधिकारी/ महाराजगंज क्राइम के कुशल पर्यवेक्षण में स्वाट टीम रायबरेली तथा थाना हरचंदपुर की संयुक्त पुलिस बल की टीम को अवैध हथियारों के सप्लायर की सुरागरसी के लिए लगाया गया था।

मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि थाना हरचंदपुर क्षेत्र में कठवारा फ्लोर मिल के आगे सड़क पटरी पर बने यात्री विश्राम रोड पर स्विफ्ट डिजायर कार सवार चार व्यक्तियों द्वारा अवैध शस्त्रों की खरीद-फरोख्त चल रही है। मुखबिर से मिली पुख्ता सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और देखा वहां एक स्विफ्ट डिजायर कार खड़ी है। कार के पास खड़े संदिग्ध लोगों की घेराबंदी करके तलाशी ली गई तो विमल प्रकाश श्रीवास्तव उर्फ अमित से एक पिस्टल 32 बोर मय पांच अदद जिंदा कारतूस 32 बोर तथा प्रदीप उर्फ संत लाल यादव के कब्जे से एक पिस्टल 32 बोर मय 5 अदद जिंदा कारतूस 32 बोर तथा अनूप कुमार यादव से एक अदद पिस्टल 32 बोर मय दो अदद जिंदा कारतूस 32 बोर व एक अदद तमंचा 315 बोर एवं एक अदद मैगज़ीन 32 बोर तथा प्रशांत कुमार से एक अदद पिस्टल 32 बोर मय तीन अदद जिंदा कारतूस 32 बोर व एक अदद तमंचा 315 बोर तथा पूछताछ से रमेश यादव से एक पिस्टल 32 बोर मय 5 अदद 32 बोर के साथ 25265 रुपए नगद, घटना में प्रयुक्त स्विफ्ट डिजायर कार तथा 6 अदद मोबाइल फोन बरामद हुआ। थाना हरचंदपुर पर मुकदमा अपराध संख्या 32/2018 से 36/2018 तक धारा 3/25 आर्म्स एक्ट का अभियोग पंजीकृत करते हुएअग्रेतर कार्रवाई की जा रही है। गिरफ्तार अभियुक्तों के नाम इस प्रकार हैं विमल प्रकाश श्रीवास्तव उर्फ लाला पुत्र रमाशंकर श्रीवास्तव निवासी जगदीशपुर थाना जनपद रायबरेली, प्रदीप उर्फ संतलाल यादव पुत्र रामआसरे निवासी राम नगर थाना गुरबक्श गंज जनपद रायबरेली, अनूप कुमार यादव पुत्र सुरेश चंद निवासी पूरे बरजोर थाना फुरसतगंज जिला अमेठी, प्रशांत कुमार पुत्र अशोक कुमार यादव निवासी बल्दू पुर थाना हरचंदपुर जनपद रायबरेली, रमेश यादव पुत्र शंभू लाल यादव निवासी रतापुर थाना मिल एरिया जनपद रायबरेली। ज्ञात हो अनूप कुमार यादव जो इस गिरोह का सरगना तथा मास्टरमाइंड है। पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान अखबार नवीसों से बात करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्तों के ऊपर जनपद रायबरेली, अमेठी तथा लखनऊ के अलग-अलग थानों क्रमशः कृष्णनागर, नाका हिंडोला, फुरसतगंज, डीह, नसीराबाद, हरचंदपुर तथा मिल एरिया में गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत है।

प्रेस वार्ता में गिरफ्तार अभियुक्तों को बरामद सामान के साथ पेश किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों में गिरोह का सरगना तथा मास्टर माइंड अनूप यादव ने बताया कि वह करीब 1 साल से अवैध पिस्टल व तमंचा का कारोबार चला रहा है तथा उसके साथ प्रशांत कुमार भी अवैध पिस्टल व असलहे का कारोबार करता है। अभियुक्त ने बताया एक पिस्टल 20 से 22 हजार रुपए में आसानी से बिक जाती है तथा 315 बोर का तमंचा 3000 से ₹3200 में बेचते हैं। प्रशांत को इसके एवज में प्रति पिस्टल ₹2000 तथा प्रति तमंचा 200 से ₹500 मिलता है। अभियुक्तों ने बताया कि वह दोनों अवैध असला बेचकर खर्चा चलाते हैं। अभियुक्त अनूप यादव ने बताया कि पूर्व में वह विमल प्रकाश व रमेश यादव (सूमो ढाबा के मालिक) को 22- 22 हजार रुपए में पिस्टल भेज चुका है तथा प्रशांत ने बताया कि प्रदीप उर्फ संतलाल को ₹22000 में बेचा है तथा 32 बोर के कारतूस को ₹300 में बेचकर अपने खर्च पूरा करता है। अवैध हथियारों को सप्लाई करने वाले गिरोह को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में थानाध्यक्ष हरचंदपुर ब्रजमोहन सिंह, उपनिरीक्षक/ प्रभारी सर्विलांस स्वाट टीम राकेश सिंह, उप निरीक्षक सर्विलांस सेल अमरेश कुमार त्रिपाठी, उप निरीक्षक थाना हरचंदपुर इश्तियाक वारसी, उप निरीक्षक थाना हरचंदपुर असलम अली, आरक्षी सर्विलांस रामाधार, आरक्षी सर्विलांस सेल संतोष सिंह, आरक्षी स्वाट टीम मनोज कुमार सिंह, आरक्षी सर्विलांस सेल कौशल किशोर, आरक्षी सर्विलांस सेल संदीप कुमार यादव, आरक्षी स्वाट टीम पंकज सिंह, आरक्षी स्वाट टीम जितेंद्र सिंह, आरक्षी थाना हरचंदपुर अजय सिंह, आरक्षी थाना हरचंदपुर अजीजुल हसन, आरक्षी थाना हरचंदपुर मनोज कुमार यादव, आरक्षी थाना हरचंदपुर अरुण कुमार वर्मा तथा आरक्षी चालक स्वाट टीम अरुण कुमार सिंह की भूमिका सराहनीय रही। अवैध हथियारों को सप्लाई करने वाले गिरोह को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक रायबरेली शिव हरी मीणा ने ₹10000 का नगद पुरस्कार देने की घोषणा की।

epmty
epmty
Top