Top

भाजपा को पहले यह बताना चाहिए कि पहला बजट कहां गया :अखिलेश यादव

भाजपा को पहले यह बताना चाहिए कि पहला बजट कहां गया :अखिलेश यादव

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के विधानमंडल दल की बैठक पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में हुई। इसमें जनहित के मुद्दों को विधानसभा और विधान परिषद में जोरदार ढंग से उठाने का निर्णय किया गया। बैठक में विधानसभा में नेता विरोधी दल रामगोविन्द चौधरी, विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल सहित पूर्व मंत्री बलराम यादव तथा राजेंद्र चौधरी भी मौजूद थे।
विधायकों को सम्बोधित करते हुए समाजवादी विधानमंडल दल के नेता एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार द्वारा बजट सत्र में दूसरा बजट पेश किए जाने पर कहा कि भाजपा को पहले यह बताना चाहिए कि पहला बजट कहां गया? जनता को कोई सुविधा मिली नहीं और सरकार दूसरा बजट ले आई है।
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार को किसानों की कर्जमाफी का ब्यौरा देना चाहिए। भाजपा सरकार बताए उसने अब तक जो वादे किए उनकी पूर्ति की दिशा में क्या कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा प्रदेश में कानून व्यवस्था का गंभीर संकट है। किसानों की फसल बर्बाद हो रही है। भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार का बोलबाला है। विद्युत आपूर्ति में कटौती चल रही है। एन्काउण्टर के नाम पर निर्दोषों की हत्या हो रही है।
यादव ने कहा कि छोटे मन से बड़ा काम नहीं हो सकता है। भाजपा को लेने की आदत है, देने की नहीं। भाजपा का नारों से राष्ट्रप्रेम का प्रदर्शन नकली है। असली राष्ट्रप्रेम है तो विकास करके दिखाए। भाजपा सरकार का दिल बड़ा नहीं है। मूलभूत मुद्दो से जनता का ध्यान हटाने के लिए भाजपा नफरत की राजनीति करती है। जनता को गुमराह करने की साजिशें हो रही है।
अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार सिर्फ थोथे वादे करती है। विकास में उसकी रूचि नहीं है। गोरखपुर में एम्स और 500 बेड के अस्पताल का पता नहीं क्या हुआ है? गोरखपुर से देवरिया और देवरिया से सलेमपुर तक 4लेन की सड़क कहां बन रही है? अपराध नियंत्रण की यूपी डायल 100 नं0 की व्यवस्था चौपट है। जनता का भरोसा भाजपा से उठ गया है। बेरोजगारी के संकट का कोई समाधान नहीं है। बुनकरों की उपेक्षा हो रही है। शिक्षामित्र, आंगनबाड़ी कार्यकत्री सब पेरशान हैं। समाजवादी पेंशन बंद कर दी गई हैं।
अखिलेश यादव ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि जो राजनीति को गंभीरता से लेता है उसे ही राजनीति में बने रहने का हक है। जनता की समस्याओं को लेकर समाजवादी पार्टी ने हमेशा संघर्ष किया है। आगे भी हम सड़क से सदन तक जनहित की समस्याओं को लेकर संघर्ष करते रहेंगे।

epmty
epmty
Top